रावणा राजपूत समाज का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मिला

PALI SIROHI ONLINE

पाली (जगदीश सिंह गहलोत) रावणा राजपूत समाज का प्रतिनिधिमंडल समाज के हितों के लिए महत्वपूर्ण एवं सकारात्मक मांगो को लेकर जोधपुर शहर विधायिका मनीषा पवार जोधपुर, गजेंद्रसिंह सांखला प्रदेश प्रवक्ता कांग्रेस बीकानेर, रणजीतसिंह चेयरमैन मालपूरा, उमेदसिंह तवर पूर्व यूआईटी अध्यक्ष जैसलमेर,पहाड़सिंह कुंडल युवा प्रदेश अध्यक्ष ,मूलसिंह जिला अध्यक्ष पाली, मेघराजसिंह सांखला पूर्व चेयरमैन बिदासर चूरू, केसरसिंह राठौड़ सरपंच सुजानगढ़, मेघराज पवार अध्यक्ष सचिवालय ऑफिसर एसोसिएशन के नेतृत्व में गणमान्य सदस्य समाज के हितों की मांग को लेकर मुख्यमंत्री निवास पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात कर समाज की विभिन्न मांगों पर विस्तार से चर्चा की जिला अध्यक्ष मूलसिंह गहलोत ने बताया मुख्यमंत्री गहलोत ने समाज की मांगो पर पूर्ण संवेदनशीलता और सकारात्मक रुख अपनाते हुए प्रतिनिधिमंडल के प्रस्तुत सभी उचित मांगो को अति शीघ्र सकारात्मक कार्यवाही हेतु आश्वासन दिया| समाज के प्रति निधि मंडल की प्रमुख मांग राजस्व रिकॉर्ड में वजीर हजूर दरोगा शब्दों के ब्रैकेट में रावणा राजपूत शब्द के स्थान पर उपयुक्त तीनों शब्दों को विलोपित करते हुए केवल रावणा राजपूत शब्द प्रतिस्थापन करने की मांग का विधि सम्मत परीक्षण करवाते हुए शीघ्र अति शीघ्र इसे पूर्ण करवाने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।मेजर दलपतसिंहजी की स्मृति में शौर्य स्तंभ की स्थापना की सहमति।


मेजर दलपत सिंहजी जैसे अंतरराष्ट्रीय व्यक्तित्व की प्रशंसा करते हुए उनकी शौर्य गाथा को विद्यालयों के पाठ्यक्रम में सम्मिलित करने हेतु शिक्षा मंत्री को निर्देशित किया । साथ ही इन की शौर्य गाथा को राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई शौर्य गाथाओं में पृथक से प्रेरक शौर्य गाथा के रुप में सम्मिलित करने हेतु निर्देशित किया | मुख्यमंत्री ने मेजर दलपतसिंह की स्मृति में शौर्य स्तंभ की स्थापना की सहमति दी है|

संवेदनशील राजस्थान सरकार समस्त वर्गों के लिए लोक कल्याण का कार्य कर रही है इसी श्रंखला में समाज के प्रतिनिधि मंडल ने लोक कल्याणकारी योजनाओं को धरातल पर सही लोगों में सही तरीके से पहुंचाने के लिए समाज एवं राजस्थान सरकार के मध्य सतत संवाद की स्थापना का सुझाव रखा जिसे माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने सहर्ष स्वीकृति दी माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने कहा कि राजस्थान सरकार प्रत्येक वर्ग और उनकी समस्याओं के लिए सदैव तत्पर है प्रत्येक पिछड़ा वर्ग अपनी पूर्ण क्षमता से अपना समग्र उत्थान करें इसके लिए राजस्थान सरकार प्रत्येक क्षण प्रत्येक क्षेत्र मे आपके साथ है।समाज के गणमान्य प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री के द्वारा पूर्व में राजधानी जयपुर में छात्रावास हेतु आवंटित की गई जमीन तथा 23 सितंबर को उसके उद्घाटन जैसे सर्जनात्मक सहयोग के लिए माननीय मुख्यमंत्री का आभार जताया और आज की वार्ता हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया।