आरएएस 2018 भर्ती में अनियमित्ता के खिलाफ न्यायिक जांच की मांग

PALI SIROHI ONLINE

महेंद्र सिंह परमार की रिपोर्ट

नागाणी श्री क्षात्र पुरुषार्थ फाउंडेशन के बैनर तले सिरोही जिला कलेक्टर को मुख्यालय पर क्षत्रिय समाज के लोगों द्वारा राजस्थान प्रशासनिक सेवा 2018 भर्ती परीक्षा की तहत साक्षात्कार में हुई अनियमितताओं की न्यायिक जांच करवाने करवा कर दोषियों पर कार्यवाही करने के लिए मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया।

श्री क्षात्र पुरुषार्थ फाउंडेशन टीम सिरोही के दीपेंद्र सिंह पीथापूरा ने बताया कि आरएएस 2018 की भर्ती में चयन प्रक्रिया संदिगध होने को लेकर न्यायिक जांच की मांग का मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद को ज्ञापन सौंपा गया।। इस भर्ती के बारे में सार्वजनिक की आरपीएससी का कर्मचारी 23 लाख की रिश्वत लेते हुए पकड़ा जाता है राजस्थान के शिक्षा मंत्री के रिश्तेदार फर्जी ओबीसी प्रमाण पत्र के आधार पर चयनित होते हैं और साक्षात्कार मैं सभी को एक सम्मान अंक प्राप्त हैं जो कि संदेह के घेरे में हैं ।

वही जोधपुर में आरपीएससी के दलाल 20 लाख रुपए के साथ जोधपुर में गिरफ्तार होते हैं इन सब घटनाओं के कारण आरपीएससी जैसी सर्वोच्च संस्था की गरिमा और विश्वनीयता पर प्रश्नचिन्ह लगता है इसलिए जिम्मेदार व्यक्तियों पर तुरंत कार्यवाही की जाए । इस अवसर पर दीपेंद्र सिंह पीथापुरा, भेरूपाल सिंह नरसाना, मांगु सिंह बावली,बाबू सिंह माकरोडा, हिम्मत सिंह, नटवर सिंह, करण सिंह अनेकों लोग उपस्थित रहे।।