राजस्थान में अब इन्हें भी मिलेगी नौकरियां

PALI SIROHI ONLINE

  • गहलोत सरकार ने नए साल पर लिया बड़ा फैसला- अनुकम्पा नियुक्तिः 28 अक्टूबर से पहले के प्रकरणों को भी लाभ – तलाकशुदा या विवाहित पुत्री को मिल सकेगी नौकरी- प्रदेश के 8633 परिवारों को 50-50 हजार की अनुग्रह राशिजयपुर। नया साल प्रदेश के हजारों परिवारों के लिए बड़ी राहत और उम्मीद की किरण लेकर आया है।

अब राजस्थान के हजारों परिवारों को उनके हक की नौकरी मिलेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अनुकम्पा नियुक्ति को लेकर 28 अक्टूबर, 2021 को जारी अधिसूचना का लाभ इससे पहले के प्रकरणों में भी देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।उल्लेखनीय है कि गहलोत ने राज्य कर्मचारी की मृत्यु पर उसकी तलाकशुदा या विवाहित पुत्री तथा अविवाहित राज्य कर्मचारी की मृत्यु होने पर उसके आश्रित माता-पिता या अविवाहित भाई-बहन को भी अनुकम्पा नियुक्ति का लाभ देने का निर्णय किया था। इस संबंध में अधिसूचना 28 अक्टूबर, 2021 को जारी की गई थी। चूंकि इससे पूर्व प्राप्त प्रकरणों में इसका लाभ नहीं मिल पा रहा था। मुख्यमंत्री ने मृतक राज्य कर्मचारियों के आश्रितों के हित में संवेदनशील निर्णय करते हुए 28 अक्टूबर, 2021 से पूर्व के प्रकरणों में भी यह लाभ दिए जाने की मंजूरी दी है।

कोविड पीड़ितों को सहायताराज्य सरकार ने कहा है कि मुख्यमंत्री कोरोना सहायता योजना, कोरोना वारियर्स सहायता योजना एवं एसडीआरएफ से अनुग्रह सहायता जैसी महत्वपूर्ण योजनाओं से हजारों परिवारों को राहत मिली है।- 14,817 बच्चों एवं पति की मृत्यु होने पर महिला को 103 करोड़ की सहायता। इनमें 182 अनाथ बच्चों को 1 करोड़ 91 लाख रुपए से अधिक, पिता की मृत्यु होने पर 5 हजार 640 के बच्चों को करीब 2 करोड़ 95 लाख और पति की मृत्यु होने पर 8 हजार 995 महिलाओं को करीब 99 करोड़ रुपए की सहायता।

  • 18 कोरोना वारियर्स को 50-50 लाख की सहायताः अब तक 9 करोड़ रुपए व्यय – 8633 परिवारों को 50-50 हजार की अनुग्रह राशिः 8 हजार 633 मृतकों के आश्रित परिवारों को 50 हजार रुपए प्रति परिवार के अनुसार 43 करोड़ रुपए से अधिक की राशि का भुगतान।