अंतिम संस्कार के 9 दिन बाद घर लौटा , राजस्थान पुलिस की बड़ी लापरवाही

PALI SIROHI ONLINE

रितेश अग्रवाल,फालना

राजसमंद में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है जिस ओंकारलाल को मृत बताकर पुलिस ने शव उसके परिजनों को सौंप दिया था । परिजनों ने बाकायदा अंतिम संस्कार कर पिंडदान भी कर दिया ,वह ओंकारलाल जिंदा लौट आया । उसके बेटे भाई सभी चौक गए ओर परिवार में खुशी का ठिकाना नहीं रहा 9 दिन से घर में पसरा सन्नाटा अचानक खुशियों में बदल गया ।

पुलिस को 11 मई को ही मोहि रोड पर एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिला था उसे 108 एंबुलेंस से आरके जिला चिकित्सालय पहुंचाया गया था बाद में जिला अस्पताल प्रशासन ने कांकरोली पुलिस को पत्र भेजकर उसकी पहचान के लिए कहा ।

सोशल मीडिया पर वायरल फोटो के आधार पर पुलिस ने कांकरोली के विवेकानंद चौराहा निवासी ओंकारलाल के भाई नानालाल और परिजनों को बुलाकर लिया । नानालाल ने पुलिस को बताया था कि उसके भाई ओंकारलाल के दाएं हाथ में कलाई से लेकर कोहनी तक लंबा चोट का निशान है ओर बाए हाथ की दो उंगलियां मुड़ी हुई है । अस्पताल में पड़े अज्ञात व्यक्ति के शव को पुलिस ने ओंकारलाल का शव बता दिया ।