पाली जिले में बुधवार का दिन बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच थोड़ी राहत भरा रहा….पढ़े पूरी खबर

PALI SIROHI ONLINE

पाली, 06 मई। पाली जिले में कोरोना महामारी का संक्रमण अब थोड़ा राहत दे रहा है। जिले में बुधवार का दिन बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच थोड़ी राहत भरा रहा है। करीब दो माह बाद प्रतिदिन नए मिलने वाले कोरोना मरीजों के मुकाबले अस्पतालों से ठीक हुए मरीजों को संख्या अधिक रही है। जिला प्रशासन ने इन आंकड़ों के बीच आमजन से बेफिक्र नहीं होने की अपील की है। जिला कलक्टर अंश दीप ने कहा है कि आमजन की सजगता और सतर्कता के कारण हम इस आंकड़े को पाने में सफल हुए हैं, लेकिन इससे निश्चिंत नहीं होना है। हमें रेड अलर्ट महामारी-जन अनुशासन पखवाड़े के निर्देशों का पूरी तरह पालन करना है। मास्क लगाकर रखना है, बिना वजह घरों से बाहर नहीं निकलना है तथा एक-दूसरे से दो गज की दूरी बनाकर रखनी है।


जिला कलक्टर ने बताया कि लम्बे समय बाद बुधवार को जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 250 रही, जबकि रिकवर होने वाले मरीजों की संख्या 612 जा पहुंची। उन्होंने कहा कि जिले में एक मार्च के बाद से कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हुआ है। अब जिले में 4735 एक्टिव मरीज है, लेकिन यदि आमजन जन अनुशासन पखवाड़े का सख्ती से पालन करे तो इस संख्या को तेजी से घटाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जिले में स्वास्थ्य सेवा के स्तर में तेजी से सुधार हुआ है, जिसके कारण कोरोना को मात देने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है।


उन्होंने बताया कि संक्रमितों की संख्या में कमी आमजन की समझदारी व सरकार द्वारा चलाए जा रहे ‘रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़ा‘ का परिणाम है। आमजन आगे भी यदि इसी तरह सहयोग करते रहेंगे और बेवजह घर से बाहर नहीं निकलेंगे व कोविड के प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करेंगे तो जल्द ही हम कोरोना जैसी महामारी से निजात पा सकते हैं। आमजन को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के सरकार व जिला प्रशासन के युद्ध स्तर पर प्रयास जारी हैं। मरीजों की जरूरत और उपलब्ध संसाधनों के अनुसार आमजन को ऑक्सीजन, जरूरी इंजेक्शन उपलब्ध करवाने की व्यवस्था करवाई जा रही है।
उन्होंने कहा कि किसी भी लक्षण का पता चलते ही कोरोना टेस्ट कराना ना भूलें। ज्यादा से ज्यादा टेस्ट करवाकर हम कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोक सकते है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन का पूरा ध्यान कोरोना टेस्टिंग पर है।