पाली जिला कलक्टर ने दक्षिण पूर्व अरब सागर से उठे चक्रवाती तुफान के दौरान भर्ती रोगियों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था के निर्देश दिए

PALI SIROHI ONLINE

पाली, 18 मई। जिला कलक्टर अंश दीप ने दक्षिण पूर्व अरब सागर से उठे चक्रवाती तुफान के दौरान कोविड़ 19 के संक्रमण की दृष्टिगत राजकीय एवं निजी संस्थानों में भर्ती गंभीर रोगियों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था के लिए निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। इसी के साथ चिकित्सा संस्थानों में सभी जनरेटर्स को क्रियाशील करने तथा उनके लिए आवश्यक ईधन का संग्रहण करने को कहा है।
जिला कलक्टर अंश दीप ने बताया कि चक्रवाती तुफान के अलर्ट की अवधि में कोविड़ संक्रमित मरीजों के उपचार को लेकर मुख्य सचिव श्री निरंजन आर्य ने निर्देशित किया है। उन्होंने बताया कि मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण पूर्व अरब सागर से उठा चक्रवाती तुफान तीव्र हो गया है।

पूर्वानुमान के अनुसार तुफान के दौरान 20 मई तक की अवधि में तेज हवा चलने एवं भारी वर्षा होने की आशंका व्यक्त की गई है। इससे विद्युत तंत्र के गंभीर रूप से प्रभावित होने एवं विद्युतापूर्ति में व्यवधान आना संभावित है। ऐसे में कोविड़ 19 से संक्रमित मरीजों की चिकित्सा व्यवस्था के लिए निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करना अतिआवश्यक है।
उन्होंने बताया कि जिले के सभी चिकित्सा संस्थानों की वर्तमान विद्युत व्यवस्था की तत्काल समीक्षा कर सभी चिकित्सालयों में विद्युत आपूर्ति की वैकल्पिक व्यवस्था के लिए पर्याप्त क्षमता के डीजी सेटस की उपलब्धता तत्काल सुनिश्चित की जानी है। जिन संस्थानों में पूर्व में डीजी सेटस स्थापित है उनके क्रियाशील होने की सुनिश्चितता करने के साथ उनके लिए आवश्यक मात्रा में ईंधन की अग्रिम व्यवस्था संबंधित संस्थान के स्तर से की जाए। उन्होंने सभी उपखण्ड अधिकारियों से अपने अपने क्षेत्र के अस्पतालों में इस व्यवस्था का भौतिक सत्यापन कर पर्याप्त मात्रा में ईंधन व तकनीकी संसाधन तथा काार्मिकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा है।