संविधान की प्रस्तावना का पठन कर मूल कर्तव्यों का संकल्प लिया

PALI SIROHI ONLINE

पाली। राजकीय बाँगड़ महाविद्यालय पाली के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष व एनएसयूआई प्रदेश सचिव गणपत पटेल ने सभी को सामूहिक रूप से संविधान की प्रस्तावना का पठन कराकर न्याय, स्वतंत्रता, समानता और आपस में भाईचारे की भावना को बढ़ाने की सीख दी। गणपत पटेल ने देश के प्रति अपने कर्तव्य बोध की भावना सुदृढ़ करने के लिए संविधान में वर्णित मूल कर्तव्यों के पालन करने का संकल्प दिलाया।निमेश चावरिया ने कहा डॉ.अम्बेडकर जी ने पूरे भारत वर्ष में हर जाति,वर्ग,धर्म समुदाय को हर दृष्टि से समानता का अधिकार दिया ।

बाबा साहब चाहते थे कि भारत के सम्पूर्ण नागरिकों (विशेष कर पिछड़ा वर्ग) को सविंधान में दिया गया हर अधिकार मिले । प्रकाश रांग़ी ने बताया कि वर्तमान में बाबा साहेब अम्बेडकर के नाम पर पूरे भारतवर्ष में नही बल्कि विश्व के लगभग 200 देशों में परिनिर्वाण दिवस और जन्म जयंती पर विशेष कार्यक्रम चलाकर बाबासाहेब के विचारो को फैलाने का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है ।

गणपत पटेल ने कहा की भारत के हर युवाओं को सविंधान के प्रति और बाबा साहब के विचारो के प्रति जागरुक होना चाहिए ताकि उनके विचार समाज में फैलाया जा सके ।बाबासाहेब ने केवल दलितों के लिए काम नही किया है बल्कि भारत के उन सभी नागरिकों को उनके हक़ दिलाए जो शोषण में जी रहे थे या गरीब तबके से थे । इस अवसर पर अर्जुन मेघवाल, तरुण रावल, अशोक मीणा, कुलदीप,कपूर,जय, प्रकाश, दीपक ,मेलाराम, लक्ष्मण, अरविंद सिसोदिया, किशन बंजारा,रमेश पटेल आदि एनएसयूआई कार्यकर्ता उपस्थित थे ।