गुजरात में एक हादशे में पैर गवाने वाले यूवक को कोट बालियान शिविर में मिला न्याय

PALI SIROHI ONLINE

PINTU AGARWAL CHAMUNDERI

कोट बलियान प्रशासन गांवों के संग कैंप में आज एक पैर से दिव्याग को आठ माह बाद न्याय मिला अब दिव्याग को सरकारी योजनाओ के लाभ मिलना शुरू होंगे जिससे दिव्याग की जिंदगी में सहयोग की किरण पैदा हुई।


बाली ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हीतेन्द्र वागोरिया ने बताया की प्रसासन गांवो के संग शिविर में एक दिव्याग जिसका एक पैर कटा हुआ था पीड़ित बाली उपखण्ड अधिकारी अतुल प्रकाश के पास पंहुचा। जिससे बताया की आठ माह पूर्व गुजरात कमाने गया था वहा लिफ्ट में पैर आने से उसका एक पैर काटना पड़ा। बाली उपखण्ड अधिकारी अतुल प्रकाश ने चिकित्सा अधिकारी प्रभारी डॉ शिवम मेहता से उसका दिव्याग प्रमाण पत्र बनवाया और दिव्याग को विकलांग प्रमाण पत्र देकर राज्य सरकार द्वारा विकलांग के लिए चलाई गई विभिन्न योजनाओ के फॉर्म भरवाये गए।

पाली जिला कलेक्टर अंशदीप के निर्देशन में बाली उपखण्ड में आयोजित होने शिविरो में बाली उपखण्ड अधिकारी अतुल प्रकाश,विकास अधिकारी अतुल सोलंकी तहसीलदार कन्हैयालाल मीना,ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेंद्र वागोरिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी पुरे दिन शिविरो में मोजूद रहकर आमजन को उनके कार्य हाथो हाथ सम्पादित कर लोगो को राहत दे रहे।

ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेंद्र वागोरिया ने बताया की किसी भी इंसान के शरीर से अंग किसी हादसे या विभिन्न कारणो से कटा हो उसको राज्य सरकार के निर्दशानुर दिव्याग मानते हुए चिकित्सा विभाग पाली कलेक्टर अंशदीप,जिला मुख़्य चिकित्सा अधिकारी आर पी मिर्धा,और बाली उपखण्ड अधिकारी अतुल प्रकाश के निर्देशन में चिकित्सा विभाग कार्य कर रहा है।

इस दौरान प्रधान पानरी देवी गरासिया, उप प्रमुख जगदीश चौधरी व सरपंच हंजा बाई देवासी,उप खण्ड अधिकारी अतुल प्रकाश, विकास अधिकारी अतुल सोलंकी और तहसीलदार कन्हैयालाल मीना,ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेंद्र वागोरिया,अतिरिक्त विकास अधिकारी मनोहर सिंह चौहान,समाज सेवक एडवोकेट साकला राम देवासी,उपखण्ड अधिकारी कार्यालय निजी सहायक लाल सिंह सोनीगरा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी कार्मिको पटवारी और ग्राम विकास अधिकारी राम चंद्र यादव समिति सदस्य लखमाराम बावल,ने मोजूद रहकर लोगो की सुनवाई की और विभिन्न कार्य निपटाये।

इस दौरान पूर्व प्रधान समताराम गरासिया व समस्त प्रशासन अधिकारी कार्मिक मोजूद रहे