जोधपुर में बीच सड़क पर पुलिस और बदमाश के बीच जमकर चली गोलियां, एक इंस्पेक्टर भी घायल

PALI SIROHI ONLINE

जोधपुर में बुधवार को दिनदहाड़े बदमाश का एनकाउंटर कर दिया गया। मृतक बदमाश लवली कंडारा हत्या की कोशिश के मामले में फरार चल रहा था। पुलिस उसे पकड़ने जेडीए सर्किल पहुंची तो उसने भागने की कोशिश की। घिरने के बाद लवली ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में वह ढेर हो गया।

पुलिस जब लवली को गिरफ्तार करने जेडीए सर्कल पहुंच तो उसने कॉन्स्टेबल पर बंदूक दान दी। इससे कॉन्स्टेबल पीछे हो गया। फिर बदमाश गाड़ी दौड़ाता हुआ भाग निकला। जेडीए सर्कल से पांच बत्ती चौराहे होता हुआ डिगाडी की ओर भागा। रातानाड़ा एसएचओ लीला राम ने अपनी निजी गाड़ी से उसका पीछा किया। उसके पीछे पुलिस की चेतक व अन्य गाड़ियां थीं। थोड़ा आगे चारों ओर से घिरने के बाद लवली ने फायरिंग शुरू कर दी। डिगाडी पुलिया के पास पुलिस ने उसे घेर लिया। यहां लवली ने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में बदमाश घायल हुआ और अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

एक पुलिस इंस्पेक्टर भी फायरिंग में घायल हो गए।

लंबे समय से वांछित हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा रातानाड़ा थाने में 307 का वांछित अपराधी था। लवली के जेडीए सर्कल पर होने की सूचना रातानाड़ा पुलिस को मिली इस पर पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए जाल बिछाया। पहले दो कॉन्स्टेबल उसे पकड़ने गए तो लवरी कंडारा ने उस पर बंदूक तान दी। इस पर कांस्टेबल पीछे हुए। हिस्ट्रीशीटर अपनी कार को तेज रफ्तार में भगाता हुआ ले गया। कार में एक साथी भी मौजूद था। इसका पीछा एसएचओ ने अपनी कार से किया। साथ ही पुलिस के अन्य वाहन भी पीछा कर रहे थे।

फोटो हिस्ट्री सीटर लवली कंडारा

डीसीपी इस्ट भूवन भूषण यादव ने बताया कि नागौरी गेट के हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने के लिए पुलिस ने पीछा किया। इस दौरान सारण नगर पुलिया से पहले आमने सामने की फायरिंग में हिस्ट्रीशीटर घायल हो गया। जिसकी एमडीएम अस्पताल में मौत हो गई।