पाली जिला मजिस्टेट ने उप जिला मजिस्ट्रेटों से धारा 144 दण्ड प्रक्रिया 1973 की सख्ती से पालना सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए

PALI SIROHI ONLINE

पाली जिला मजिस्ट्रेट अंश दीप ने सभी उप जिला मजिस्ट्रेटों से धारा 144 दण्ड प्रक्रिया 1973 की सख्ती से पालना सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि जिले में कोरोना की दुसरी लहर में सर्वाधिक रोगी ग्रामीण क्षेत्रों से बढ़ रहे है ऐसे में सभी उप जिला मजिस्ट्रेट अपने अपने उपखण्ड क्षेत्रों में सजगता रखते हुए सख्ती से कोरोना संक्रमण का प्रसार थामने के लिए राज्य सरकार की और से जारी की गई गाइडलाइन का पालन करवाएं।


जिला मजिस्ट्रेट अंश दीप गुरूवार को वीडियो काॅन्फ्रेसिंग से सभी उप जिला मजिस्ट्रेटों व पंचायत समितियों के विकास अधिकारियों तथा अन्य अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। जिला मजिस्ट्रेट ने सभी उपखण्ड क्षेत्र में कोरोना की वर्तमान स्थिति का फीडबेक लेते हुए कहा कि कोविड़ 19 संक्रमण के मामलों में ताजा बढ़ौतरी चिंता का कारण है। विशेषज्ञों की राय में कोविड़ की दुसरी लहर पहली लहर से अधिक खतरनाक है। दुसरी लहर में कुल सक्रमितों में से लगभग 30 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्रों में तथा 60 प्रतिशत संक्रमण 45 वर्ष से कम आयु वर्ग पाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आरटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी व्यक्ति में कोविड़ पाया जा रहा है। जिला मजिस्ट्रेट चिंता जताई की सितम्बर-अक्टूबर 2020 में जब कोरोना की पहली लहर का संक्रमण सर्वाधिक था और उस समय जितने संक्रमित मामलें और मौते प्रतिदिन हुई थी। उससे अधिक पाॅजिटिव मामलें और मृत्यु अप्रैल के पहले 10 दिनों में हो चुकी है। ऐसे में महामारी के प्रसार की श्रंखला को प्रभावी ढंग से तोडने की जरूरत है।
उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए राज्य स्तर पर निर्णय किए जा चुके है अब इन निर्णयों की धरातल पर पालना सुनिश्चित की जाए। मेडिकल व नर्सिंग महाविद्यालयों में अध्ययन यथावत रहेगा। आगामी दिनों में आने वाले पर्वो तथा त्यौहार के दौरान पूजा अर्जना व इबादत आदि घर पर ही रहकर की जाए। धार्मिक स्थलों पर प्रबंधन ही नियमित पूजा अर्जना व इबादत करेंगे। जिन स्थलों पर आॅनलाइन दर्शनों की व्यवस्था है व जारी रहेगी। समस्त धार्मिक स्थलों पर 30 अप्रैल तक श्रदालूओं के आगमन पर रोक लगाई गई है। उन्होंने कहा कि सभी उप जिला मजिस्ट्रेट अपने अपने क्षेत्रों में कोविड़ 19 उपयुक्त व्यवहार यथा फेस मास्क पहनने, हाथों की स्वच्छता और सामाजिक दूरी को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक उपाय करेंगे। सार्वजनिक व कार्य स्थलों पर मास्क नही पहनने वाले व्यक्तियों पर उचित जुर्माना लगाने जैसी कार्यवाही करे। भीड-भाड़ वाली जगहों विशेषकर बाजारों, साप्ताहिक बाजारों व सार्वजनिक परिवहन में सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियम की कडाई से अनुपालना करावाऐं।
उन्होंने कहा कि दुकानों, व्यावसायिक प्रतिष्ठानो, कारखानों में नो मास्क नो सर्विस प्रोटोकाॅल का सख्ती से पालन करवाया जाएगा। उन्होंने इस प्रोटोकाॅल के उल्लंघन पर 72 घंटे के लिए संबंधित संस्थान को सील करने की कार्यवाही के निर्देश दिए है। उन्होंने राशन की दुकानों पर लगी पोश मशीनों को सेनेटाइज करवाने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाने के निर्देश दिए।
वीसी में अतिरिक्त जिला कलक्टर चन्द्रभानसिंह भाटी, उपखण्ड अधिकारी देशलदान चारण, उप पुलिस अधीक्षक तेजपालसिंह, यूआईटी सचिव वीरेन्द्रसिंह चौधरी, ग्रामीण सीईओ श्रवण कुमार संत, सहित समस्त उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी इत्यादि जुड़े रहे।