गुलाब गंज में किया कोरोना योद्धा का सम्मान

PALI SIROHI ONLINE

महेंद्र सिंह परमार

मुख्य अतिथि अनादरा थाना अधिकारी गीता सिंह मौजूदगी में कार्य क्रम का हुआ सम्पन्न

नागाणी// ग्राम पंचायत गुलाबगंज के राजीव गाँधी सेवा केन्द्र पर कोरोना योद्धा का सम्मान समारोह का कार्यक्रम रखा गया जिसमे अध्यक्षता सरपंच निरमा देवी मेघवाल द्वारा की गई मुख्य अतिथी अधिकारी गिता सिंह पुलिस थाना अनादरा विशिष्ठ अतिथी डा. अनुप सवामी PHC सनवाडा शैतान सिंह प्रधानाध्यपक गुलाबगंज ग्राम पंचायत मे कोराना काल मे जिनहोने अपने जान की परवा किये बिना पूरे गाँव व ग्राम पंचायत मे हर घर कोई भी सुविधा से वचिंत नही रहने दिया ग्राम पंचायत के आँगनवाडी कार्यकर्ता आशा सहयोगी व साहायीका का ग्राम पंचायत गुलाबगंज द्वारा परिचय पत्र द्वारा समानित किया ग्राम पंचायत के राशन डीलर पंचायत सहायक रोजगार सहायक व रा. उ . मा . विधालय के प्रधानाध्यक peeo का संमान ग्राम पंचायत द्वारा किया गया

ग्राम पंचायत गुलाबगंज के B .L .O का संमान व परिक्षय पत्र द्वारा समान किया गया A . N . M. उप स्वा केन्द्र मालगाँव व गुलाबगंज का परिचय पत्र व संमान किया गया इस मौके पर थाना अधिकारी गिता सिंह जी द्वारा अवगत कराया की कोराना महामारी मे दो गज दूरी मास्क का उपयोग करना सावधानी बरतने को का ग्राम विकास अधिकारी राजेश टेलर द्वारा बताया गया की कोरोना महामारी घातक है हमेशा मास्क लगाये बाहर से आने के बाद हमेशा साबुन से हाथ धोने एवं कोरोना के तहत कोर ग्रुप पंचायत के – निगरानी कमेठी के सदस्य को अच्छा काम करने के लिये उनका आभार प्रकट किया व धन्यवाद दिया

ग्राम पंचायत गुलाबगंज सरपंच निरमा देवी मेघवाल द्वारा समस्त कोरोना योद्धा का संमान किया गया व परिचय पत्र से संमान किया गया ग्राम पंचायत के उप सरपंच दिपाराम चौधरी वार्ड पंच गोपाल राम मेघवाल गोवाराम भरत सिह बीका भवर सिंह देवडा शिवनाथ सिह बिका वार्ड पंच नैनमल रावल , BLO रावताराम मुकेश सिंगारली खेडा विक्रम सिंगारली खेडा अध्यापक व कृर्षि प्रवेशक ग्राम पंचायत के समस्त कार्मिक मौजुद पंचायत सहायक पाबुराम गरासिया देवी सिंह वणाराम चौधरी रहे मोजुद सरपंच निरमा देवी द्वारा बताया गया की अभी कोराना की तिसरी लहर की संभावना है आप सभी से आशा है आप ने कोराना को हराने मे आप की पूरी जिम्मेदारी रही है आगे भी आप इसी तरह अपनी जिमेदारी से काम करने की आशा है प्रभाराम मेघवाल भी मोजुद रहे व गुलाबगंज के ग्रामिण मोजूद रहे