फ्यूल सरचार्ज और बिजली दरों में वृद्धि को वापस ले मुख्यमंत्री_सिद्धावत

पाली सिरोही ऑनलाइन

फालना भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा जिला महामंत्री देवेंद्र सिद्धावत ने बिजली बिलो में फ्यूल सरचार्ज बढ़ोतरी को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधा उन्होंने कहा कि प्रदेश में 96 प्रतिशत बिजली का उत्पादन होने के बावजूद भी प्रदेश सरकार के द्वारा तीन बार बिजली दरों में बढ़ोतरी की गई साथ ही टैरिफ फ्यूल सरचार्ज फिक्स चार्ज से स आदि में बढ़ोतरी कर कोरोना कॉल में आम उपभोक्ताओं एवं किसानों पर आर्थिक बोझ डाल कर उनको परेशानियों की और बढ़ा दिया सिद्धावत ने राज्य सरकार से यह मांग की कि बढ़ा हुआ फ्यूल सरचार्ज और बढ़ी हुई बिजली दरों को वापस लिया जाए और कोरोना काल के दौरान 3 माह के बिजली के बिलों को राज्य सरकार ने स्थगित किया था उनको माफ कर आमजन को राहत प्रदान की जाए वही भारतीय जनता पार्टी पूर्व मंडल अध्यक्ष भरत त्रिवेदी ने कहा कि राज्य की बिजली उपभोक्ताओं पर फ्यूल सरचार्ज के नाम पर एक बार फिर 112 करोड रुपए का अतिरिक्त भार लादेते हुए 7 पैसे प्रति यूनिट की वसूली के आदेश को दुर्भाग्यपूर्ण वह आम आदमी की कमर तोड़ने वाला बताया वही पूर्व महामंत्री भोपाल सिंह गुर्जर ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने यू-टर्न लेते हुए 26 माह के कार्यकाल में दर्जनों बार कई कारण बताते हुए आम आदमी की जेब ढीली करने का काम किया है साथ में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने रोष जताया जिसमें अमित मेहता,रितेश अगरवाल,कुणाल पवार,महिपाल सिंह आंकड़ा वास,जितेंद्र कलावत, दिनेशपुरी,ललित मालवीय,पारस सोमपुरा,महेंद्र तिवारी,प्रितपाल सिंह छाबड़ा,जगदीश चारण,मनीष मालवीय आदि कार्यकर्ताओं बड़े हुए फ्यूल चार्ज को लेकर को लेकर रोष जताया।

फोटो देवेन्द्र सिद्धावत