धौलपुर सांसद डा. मनोज राजोरिया ने बताया कि देष के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार कोविड-19 की द्वितीय लहर से उत्पन्न परिस्थितियों का सामना तो कर ही रही है

PALI SIROHI ONLINE

‘‘करौली – धौलपुर संसदीय क्षेत्र में कोविड-19 महामारी से बचाव एवं उपचार हेतु भारत सरकार के द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के तहत लगेंगे नवीन ऑक्सीजन प्लान्ट एवं होगा चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार’’

करौली – धौलपुर सांसद डा. मनोज राजोरिया ने बताया कि देष के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र भाई मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार कोविड-19 की द्वितीय लहर से उत्पन्न परिस्थितियों का सामना तो कर ही रही है। साथ ही विष्व स्वास्थ्य संगठन एवं आई.सी.एम.आर. के अनुसार अनुमानित तृतीय लहर के लिए संभावित परिस्थितियों हेतु तैयारियाँ आरंभ कर दी हैं।


डॉ. राजोरिया ने बताया इन्ही चिकित्सा सुविधाओं और संसाधनों के विकास के क्रम में करौली जिले में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन (एन.एच.एम.) के द्वारा नई जिला अस्पताल करौली में 65 सिलेण्डर/प्रतिदिन का एक ऑक्सीजन प्लान्ट लगेगा, करौली शहर स्थित जिला अस्पताल के पुराने भवन में आई.सी.यू. हेतु एक पृथक ऑक्सीजन प्लान्ट लगेगा साथ ही आई.सी.यू. का विस्तार एवं आधुनिकीकरण हेतु 05 सीपेप मषीनें, 08 मल्टीपैरा मॉनीटर इत्यादि उपकरण स्थापित किये जावेंगे। कोविड-19 की संभावित तृतीय लहर में बच्चों के संभावित संक्रमण को ध्यान में रखते हुए करौली जिला अस्पताल एक और नियोनेटल आई.सी.यू. यूनिट का विकास किया जावेगा।


सांसद राजोरिया ने बताया कि जिला अस्पताल हिण्डौन में एक और ऑक्सीजन प्लान्ट तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र टोडाभीम व सपोटरा पर भी एक – एक ऑक्सीजन प्लान्ट राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के तहत स्थापित किया जावेंगे। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र टोडाभीम पर भवन एवं चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार करते हुए 100 बैठ के अस्पताल के रूप में विकसित किया जावेगा तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सपोटरा 50 बैड हेतु चिकित्सा सुवधिाओं का विस्तार किया जावेगा।

सांसद डा. राजोरिया ने बताया कि करौली जिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 05 एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 01 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर उपलब्ध कराये जा रहे हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के तहत काफी समय से सी.एच.ओ. की नियुक्तियां भी राज्य सरकार द्वारा हाल ही में दी गयी हैं। इनमें करौली जिले हेतु आवंटित 55 सी.एच.ओ. में से 45 ने कार्यग्रहण कर लिया है।


सांसद डा. मनोज राजोरिया ने बताया कि इसी चिकित्सा सुविधाओं एवं संसाधनों के विकास के क्रम में धौलपुर जिले में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के तहत राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के तहत 65 ऑक्सीजन सिलेण्डर/प्रतिदिन का एक और ऑक्सीजन प्लान्ट, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सैंपऊ तथा बसई नवाब पर 35 ऑकसीजन सिलेण्डर/प्रतिदिन के एक – एक प्लान्ट तथा शहरी विकास विभाग द्वारा 100 ऑक्सीजन सिलेण्डर/प्रतिदिन का उत्पादन क्षमता वाला एक प्लान्ट जिला अस्पताल धौलपुर में स्थापित किये जावेंगे और भारत सरकार की गैस अथॉरिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड द्वारा उप जिला अस्पताल बाडी में 35 ऑक्सीजन सिलेण्डर वाला प्लान्ट जिसका कार्य जारी है।


सांसद डा. राजोरिया ने बताया कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में मानव संसाधनों में वृद्धि की दृष्टि से कोविड कन्सल्टेन्ट एवं कोविड स्वास्थ्य सहायकों की भर्तीयां भी की जा रही हैं। कोविड स्वास्थ्य सहायकों के रूप में द्वितीय श्रेणी नर्सिंग कार्मिक की नियुक्ति प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर 01 एवं नगर परिषद क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड में 02 कार्मिक के अनुपात में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिषन के तहत की जावेगी।
सांसद डा. राजोरिया ने बताया कि मेरा करौली – धौलपुर संसदीय क्षेत्र के सभी नागरिकों से अनुरोध है कि केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 के संबंध में जारी की जा रही गाईड लाईनों का पालन करें तथा स्वयं व अपने परिजनों के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। हम सभी को एक साथ मिलकर कोरोना को हराना है।