अब चाणोद पीएचसी को मिला सीएचसी का दर्जा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत हुआ_मिर्धा

PALI SIROHI ONLINE

अब चाणोद पीएचसी को मिला सीएचसी का दर्जा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत हुआ चाणोद का अस्पताल, आसपास के ग्रामीणों को मिलेगी बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं


पाली, 15 जुलाई 2021। पाली जिले के सुमेरपुर ब्लाॅक में संचालित हो रही चाणोद का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत किया है। इसके लिए राज्य सरकार ने हाल ही में इसकी घोषणा की थी, जिस पर यहां पर पदों की भी स्वीकृति जारी कर दी है। पाली जिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की संख्या 25 बढ़कर अब 26 हो गई है।

       मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.आरपी मिर्धा ने बताया कि जिले के सुमेरपुर ब्लाॅक के चाणोद गांव में चिकित्सा सुविधाओं को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र संचालित हो रहा था। लोगों के स्वास्थ्य को देखते हुए यहां के भामाशाहों ने लाखों की लागत से सुसज्जित भवन भी बनाया गया। हालांकि भवन में मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं को देखते हुए जिला प्रशासन की अनुशंषा, चिकित्सा विभाग के प्रयास एवं जनप्रतिनिधियों के माध्यम से चाणौद की पीएचसी को सीएचसी में क्रमोन्नत करवाने के लिए ग्रामीण कई बार गुहार लगा चुके है। इसी को देखते हुए राज्य सरकार ने पिछले दिनों अपने बजट घोषणा वर्ष 2021-22 में पाली जिले के चाणोद गांव के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत करने की स्वीकृति जारी की है।  

       उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री की बजट घोषणा एवं वर्ष 2021-22 में राज्य के कुल 50 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में क्रमोन्नत किया है। इसमें से पाली जिले के सुमेरपुर ब्लाॅक में चाणोद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्रमोन्नत किया है। इस चिकित्सा संस्थान के सीएचसी में क्रमोन्नत के बाद अब क्षेत्र की जनता को आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ भी मिल सकेगा।

सीएचसी में ये रहेगा स्टाॅफ

पाली। सीएमएचओ डाॅ.आरपी मिर्धा ने बताया कि जिले के चाणौद को पीएचसी से सीएचसी में क्रमोन्नत होने के बाद चाणौद व आसपास के गांवों के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी। यही नहीं अब अस्पताल में सीएचसी के नाॅम्र्स के अनुसार स्टाॅफ की नियुक्ति की जाएगी। इसमें यहां पर कनिष्ठ विशेषज्ञ के दो पद, जिसमें एक सर्जरी व एक मेडिसिन, एक पद वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी, चिकित्सा अधिकारी के दो पद पहले से ही स्वीकृत, नर्स श्रेणी प्रथम के एक पहले से स्वीकृत है, नर्स श्रेणी द्वितीय के चार पद जिसमें से दो पद नए स्वीकृत किए गए।

फार्मासिस्ट का एक जो कार्यरत है, सहायक रेडियोग्राफर का एक पद, लैब टेक्निशियन का एक पद नया स्वीकृत, कनिष्ठ/वरिष्ठ सहायक का एक पद नया स्वीकृत, मशीन विद मैन का एक पद नया स्वीकृत, वार्ड ब्याॅय के एक कार्यरत तथा तीन नए स्वीकृत, सफाई कर्मचारी एक कार्यरत तथा एक नया पद स्वीकृत किया गया है।

राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित हो चुका चाणौद का अस्पताल

पाली। सीएमएचओ डाॅ.आरपी मिर्धा ने बताया कि पिछले वर्ष राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम के तहत जिले के चाणोद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को राष्ट्रीय प्रमाण पत्र के लिए चयन कर पुरस्कृत किया गया।

उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम के अंतर्गत भारत सरकार की ओर से चाणोद में संचालित हो रहे राजकीय आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का मूल्यांकन के लिए आई थी तथा इस टीम ने चैकलिस्ट के अनुसार दो दिन तक चाणोद अस्पताल में मरीजों को मिल रही सुविधा से लेकर उपलब्ध सुविधाओं के बारे में गहनता से निरीक्षण कर टीम ने अपनी रिपोर्ट बनाकर भारत सरकार को भेजी जिस पर भारत सरकार ने चाणोद पीएचसी सरकार के निर्धारित मापदंड पर खरी उतरने पर राष्ट्रीय गुणवत्ता प्रमाणिकरण में चयन कर पुरस्कृत किया गया था।