अवैध सम्बंधों की बलि चढ़ा पुत्र, पिता व पत्नी ने की हत्या

PALI SIROHI ONLINE

जैसलमेर अवैध सम्बंधों की बलि चढ़ा पुत्र, पिता व पत्नी ने की हत्या।
पति को बेहोश कर करंट लगाया, जैसलमेर में हत्या के मामले का राजफाश।

राजस्थान के जैसलमेर जिले के नाचना थाना क्षेत्र में हुई हत्या के मामले का खुलासा हुआ तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। उसकी पत्नी व पिता के बीच चल रहे अवैध सम्बंधों के कारण उसे जान गंवानी पड़ी। युवक की मौत कुछ दिन पहले ही हुई थी। मामले में संदेह के आधार पर मृतक के भाई ने हत्या का मामला दर्ज करवाया था। पुलिस ने आरोपी पत्नी व मृतक के पिता को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार गत 6 मई को असकन्द्रा निवासी भोमराज पुत्र मुकेशकुमार मेघवाल ने रिपोर्ट देकर बताया था कि उसके छोटे भाई हीरालाल की मौत 25 अप्रेल की रात को हो गई थी। अगले दिन 26 अप्रेल को उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। उसकी मौत के बाद चचेरे भाई ने फोटो खींचे थे, जिसमें शव पर जलने जैसे घाव होने से मौत के सम्बंध में संदेह हुआ। इस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। दफनाए गए शव को वापस निकाला गया तथा मेडिकल टीम से पोस्टमार्टम करवाया। जांच के दौरान संदेह के आधार पर पुलिस ने मृतक की पत्नी श्रीमती पारले से गहन पूछताछ की। इस पर सामने आया कि पति हीरालाल शराबी था एवं कोई काम नहीं करता था। आए दिन झगड़ा करता था। इस कारण ससुर के साथ अवैध सम्बंध हो गए थे।

पति को रास्ते से हटाने के लिए 25 अप्रेल की शाम को ससुर ने उसे नींद की गोलियां दी व हीरालाल को खिलाने की बात कही। गहरी नींद आने पर उसे करंट लगाने की साजिश रची। उस रात सब खाना खाकर सो गए। ससुर, जेठानी व बच्चे बाहर सो रहे थे। वह अपने पति के साथ चौक में सोने चली गई। रात करीब साढ़े ग्यारह बजे नींबू पानी में नींद की गोलियां डालकर पति को पिला दी। बेहोश होने के बाद पति के कानों में तार डालकर करंट लगाया। दस-पंद्रह मिनट करंट चालू रखने के बाद देखा तो पति का हिलना-डुलना बंद हो चुका था। इसके बाद वह सो गई। सुबह ससुर मुकेश पुत्र कबीराराम ने कम्पाउंडर व गांव वालों को बुलाकर पता किया तो हीरालाल की मौत हो चुकी थी। मृतक के शरीर पर चोटों के निशान स्पष्ट रूप से होने पर भी पुलिस को सूचना नहीं दी। परिजनों ने कहा, लेकिन ससुर नहीं माना तथा शाम को अंतिम संस्कार कर दिया। मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस ने मृतक की पत्नी श्रीमती पारले व पिता मुकेश को गिरफ्तार कर लिया।