आरक्षित वर्गों के कॉलेजों में अध्ययनरत छात्रों को राज्य सरकार अपने घर से दूर शहरी क्षेत्रों में रहने के लिए आवासीय सुविधा के लिए वाउचर उपलब्ध करवाएगीपाली जिला कलक्टर अंश दीप ने विलेज कमेटियों से मेरा गांव-मेरी जिम्मेदारी अभियान के माध्यम से लोगो को जागरूक करने के निर्देश दिए

PALI SIROHI ONLINE

पाली, 24 मई। विभिन्न आरक्षित वर्गों के कॉलेजों में अध्ययनरत छात्रों को राज्य सरकार अपने घर से दूर शहरी क्षेत्रों में रहने के लिए आवासीय सुविधा के लिए वाउचर उपलब्ध करवाएगी। इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एससी, एसटी, ओबीसी, एमबीसी तथा ईडब्ल्यूएस वर्ग के विद्यार्थियों के लिए अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना लागू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।


जिला कलक्टर अंश दीप ने बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के प्रस्ताव के अनुसार गत परीक्षा में न्यूनतम 75 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले कुल 5 हजार छात्रों को मेरिट के आधार पर वर्ष में 10 माह के लिए डीबीटी वाउचर दिए जाएंगे। योजना के तहत लाभार्थी छात्रों को संभागीय मुख्यालयों पर आवासीय सुविधा के लिए प्रति छात्र 7 हजार रूपए प्रतिमाह तथा अन्य जिला मुख्यालयों के लिए 5 हजार रूपए प्रतिमाह देय होंगे।
उन्होंने बताया कि राज्य बजट 2021-22 में की गई घोषणा के क्रम में अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना शैक्षणिक सत्र 2021-22 में ही प्रारंभ हो जाएगी। राजकीय महाविद्यालयों में स्नातक अथवा स्नातकोत्तर कक्षाओं में नियमित रूप से अध्ययनरत छात्र ही योजना के लिए पात्र होंगे। राज्य सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा संचालित छात्रावासों में रहकर अध्ययन कर रहे विद्यार्थी योजना के पात्र नहीं होंगे। इस संवेदनशील निर्णय से अपने परिवार से दूर रहकर स्नातक अथवा स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों को लाभ होगा।