बिरामी-प्रजापति कुम्भकार‌ समाज के सामुहिक विवाह में 11 जोड़े बने हमसफर, मंत्रोंच्चार के बीच एक साथ सभी जोड़ो ने निभाई शादी की रस्मे

PALI SIROHI ONLINE

नटवर मेवाडा

बिरामी-प्रजापति कुम्भकार‌ समाज के सामुहिक विवाह में 11 जोड़े बने हमसफर, मंत्रोंच्चार के बीच एक साथ सभी जोड़ो ने निभाई शादी की रस्मे

साणड़ेराव:- प्रजापति कुम्भकार‌ समाज श्रीयादे सेवा समिति भीम रा परगना बिरामी की और से आयोजित दो दिवसीय समाज के तृतीय सामुहिक विवाह समारोह‌ के साथ श्रीयादे माताजी मंदिर की पांचवीं वर्षगांठ महोत्सव हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुआ, सामुहिक विवाह समारोह में संत महात्माओं के साथ अतिथियों की पावन निश्रा में 11 नव युगलों ने वैदिक मंत्रों उच्चारण के बीच अग्नि के समक्ष सात फेरे लेकर परिणय सुत्र में बंधे एवं जीवन भर साथ निभाने का संकल्प लिया।चवरी मण्डप के प्रवेश द्वार पर दुल्हन परिवार की महिलाओ ने मारवाड़ी गीतों के साथ तिलक आरती करते हुए विवाह की रस्मे पूरी की। विवाह समिति के अध्यक्ष शंकरलाल प्रजापत की अध्यक्षता में नवदम्पतियों को आशीर्वाद देने के लिए मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत,बिरामी सरपंच मनोहर कुंवर करणोत,धर्माराम बेहडा, वेलाराम रेडवाल सहित बड़ी संख्या में समाजबंधु नवदम्पतियों को आशीर्वाद देने के लिए उपस्थित थे।

आयोजन में दिखा अनुशासन

कुंभकार प्रजापति समाज के इस सामुहिक विवाह समारोह में संस्कारों की गरिमा के साथ विभिन्न व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए सामुहिक विवाह समिति की और से शानदार व्यवस्था की गई।विवाह स्थल पर शनिवार देर शाम तक सभी बरातो के पंहुचने पर दूल्हे-दुल्हन के सगे-संबंधियों ने एक दुसरे के गले मिलकर आपस में फुलमालाओ के साथ रंग-गुलाल डालकर मिलणी की वही सभी दूल्हों ने एक साथ तलवारों से तोरण मार कर तो भुआओ ने भुआ आरती के साथ दूल्हे की सासुजी ने दूल्हों के कुंकुम से तिलक कर वदावदने किए।

पुष्प वर्षा के साथ बारातियों का हुआ स्वागत

विवाह स्थल पर शनिवार देर शाम को सभी बरातो के पंहुचने पर सामुहिक विवाह समिति के सदस्यों एवं समाज बंधुओं ने फूल बरसा कर सभी दुल्हे दुल्हन के साथ पहुंचे समाज बंधुओं का जोरदार उत्साह के साथ स्वागत किया। इसके बाद सभी दूल्हे-दुल्हनो की सामुहिक बंदोली‌ बैण्ड बाजों व ढोल-थाली के साथ गाजों बाजो के साथ निकली गई।बंदोली में सभी बाराती-धरातियों के साथ युवक-युवतियां मस्ती में नाचते-गाते हुए शनिवार शाम करीब 6 बजे तोरण द्वारा पर पहुंचे।विवाह स्थल पर दुल्हन परिवार की महिलाएं राजस्थानी लोक गीत गाते हुए सभी दूल्हों का स्वागत किया।उसके बाद पौराणिक परंमपरा व हिन्दू संस्कृति के साथ शादी की रस्मे निभाते हुए अग्नि के समक्ष सात फेरे लेकर एक-दूसरे ने जीवन भर साथ निभाने की सौगन्ध खाई।

विदाई के दौरान छलके आंसू

विवाह समारोह के दुसरे दिन रविवार शाम 5 बजे करीब दुल्हनो को विदाई देते समय उपस्थित समाज बंधुओं के साथ उनके माता-पिता की आँखों में खुशी के आंसू छलक पड़े।उन्होंने अपनी बेटियों को खुशी-खुशी विदा किया।विवाह स्थल पर बारातियों के साथ अन्य नागरिकों के लिए जगह-जगह पर शीतल पेयजल, विश्राम के लिए छाया,भोजन-प्रसादी सहित अन्य सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध की गई थी।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ का संकल्प दिलाया।

प्रजापति कुम्भकार‌ श्रीयादे सेवा समिति की और से विवाह समारोह पूरी तरह से नशा मुक्त रखा गया,साथ ही कार्यक्रम में समाज बंधुओं सहित समारोह में शरीक लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से विवाह स्थल पर जगह जगह नशा मुक्ति, बेटी बचाओ बेटी पढाओ,विवाह एक नई जिम्मेदारी,नव दम्पति को जिसे निभाना है सहित समाज के बैनर तथा प्रदर्शनी लगाई गई।इस दौरान रक्तदान शिविर का आयोजन हुआ जिसमें युवा युवतिओं ने 36 युनिट रक्त डौनीट किया,समारोह में उपस्थित सभी समाज बंधुओं को एक साथ संत- महात्माओं की और से बेटी बचाओ बेटी पढाओ का संकल्प दिलाया गया।

भामाशाहो के साथ अतिथियों का हुआ बहुमान।

विवाह समारोह के दौरान आयोजित स्वागत समारोह में भामाशाहो के साथ अतिथियों का आयोजन कमेटी की और से कुंकुम से तिलक कर श्री फल देकर राजस्थानी परंमपरा के अनुसार चुनडी साफा पहनाकर फुलमालाओ के साथ जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान समाजबंधु सेवा कार्य में सदस्यों के साथ समाजबंधु उपस्थित थे। इस दौरान समिति अध्यक्ष शंकरलाल प्रजापत के साथ लालाराम कोसेलाव,गणेश प्रजापति सुमेरपुर, संग्राम राम खिमाडा, ललित कुमार दौलपुरा, राकेश कुमार सुमेरपुर, हंसराम,रघुनाथ राम, पेमाराम साण्डेराव, दीपाराम खागड़ी, जवाना राम बिरामी, भुराराम बागड़ी,मुलाराम साण्डेराव,गलबाराम धणआ सहित श्रीयादे सेवा समिति के सदस्य सेवा कार्य में जुटे हुए थें।

ग्राम पंचायत बिरामी की ओर से की अनोखी पहल

प्रजापति कुंभकार श्रीयादे सेवा समिति के बैनर तले आयोजित समाज के‌ तीसरे सामूहिक विवाह समारोह में कैबिनेट मंत्री श्रीमान जोराराम कुमावत ने 11 जोड़ों को आशीर्वाद दिया गया तथा ग्राम पंचायत की ओर से अनोखी पहल करके हाथों-हाथ विवाह पंजीयन कर विवाह प्रमाण पत्र सामूहिक विवाह आयोजन स्थल पर वितरित किए गए जो की बिल्कुल ही निशुल्क सभी नवदम्पत्तियों कों सरपंच मनोहर कंवर की मौजूदगी में ग्राम विकास अधिकारी भगवत सिंह राठौड़ ने सामूहिक विवाह के पंजीयन से राज्य सरकार से मिलने वाली सहायता के बारे में भी अवगत कराया। कुंभकार समाज प्रजापति समाज के पांच पटेल ने खुशी जाहिर कर पहली बार ऐसा अनोखा कार्य करने पर ग्राम पंचायत का आभार व्यक्त किया।

यह भी पढे

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA