चल रहा अवैध रिफिलिंग का कारोबारः गैस एजेंसी की तरह बना रखा था गोदाम

PALI SIROHI ONLINE

जोधपुर-जोधपुर में गैस सप्लाई एजेंसियों के जैसे ही मोहल्लों में भी किराने की दुकानों पर गैस सिलेंडर के अवैध गोदाम बना दिए गए हैं। बीती रात को बासनी पुलिस ने मोहल्लों में चल रहे इस तरह के कारोबार का खुलासा किया है। पुलिस ने तीन दुकानों पर कार्रवाई की है। हैरत की बात यह है कि तीनों दुकानों पर गैस एजेंसी के गोदाम की तरह काफी संख्या में गैस सिलेंडर जमा कर रखे थे। जिन्हें लोगों को छोटी-छोटी मात्रा में दूसरे सिलेंडर पर गैस रिफिल कर बेचा जा रहा था। पुलिस ने इस संबंध तीन लोगों को 45 गैस सिलेंडर पर रिफिलिंग के सामान के साथ गिरफ्तार किया है।

यहां हुई कार्रवाई

बासनी थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस ने शनिवार को पहली कार्रवाई श्रमिक कॉलोनी में चंदन पंवार के मकान में संचालित हो रही जय नारायणाय बर्तन भंडार पर की। यहां से पुलिस ने अवैध रूप से गैस रिफिलिंग करने का काम पकड़ा है। मौके से पुलिस ने शेरगढ़ के नाहर सिंह कॉलोनी निवासी भग सिंह पुत्र खींव सिंह को गिरफ्तार किया है। इसके पास से पुलिस ने 28 गैस सिलेंडर बरामद किए हैं।

पुलिस ने इसी तरह से दूसरी कार्रवाई श्रमिक नगर में रघुनाथ चौधरी के मकान में बनी दुकान पर की। यहां से पुलिस ने 12 गैस सिलेंडर के साथ बाड़मेर के बटाडू निवासी आईदानराम पुत्र अचलाराम को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने तीसरी कार्रवाई जगदम्बा कॉलोनी स्थित भाटी प्रोविजन स्टोर पर की। यहां से पुलिस ने 5 गैस सिलेंडर के साथ चौमू भालू निवासी भंवरसिंह पुत्र नाथुसिंह को गिरफ्तार किया है।

छोटे सिलेंडर में भरते थे गैस
पुलिस ने बताया कि इन लोगों की दुकानों के आस-पास काफी संख्या में बाहर के श्रमिक रहते हैं। यह श्रमिक छोटे गैस सिलेंडर में इनके पास से गैस भरवाते हैं। मोहल्लों के बीच संचालित हो रही इन दुकानों पर असुरक्षित और अवैध तरीके से गैस भरी जाती है। जिससे बड़ा हादसा हो सकता है। इन लोगों के पास जब्त किए गए गैस सिलेंडर की संख्या से गैस की कालाबाजारी भी सामने आ रही है। इसमें गैस सिलेंडर सप्लाई करने वाले लोगों के शामिल होने का भी संदेह है। जिसको लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।

कुछ पड़ोसियों को देते थे पैसे का लालच पुलिस ने बताया कि यह दुकानदार अपने आस-पास रहने वाले लोगों की गैस डायरी से सिलेंडर खरीद लेते है और डायरी धारक को इसके लिए 100 से 200 रुपए दे देते है। जिससे उनके पास कभी सिलेंडर की कमी नहीं होती है।

यह भी पढे

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA