भजनलाल सरकार के एक मंत्री ने सिक्योरिटी गाड़ी लेने से किया इंकार: पहली बार MLA बने तब भी नही लिया गनमेन

PALI SIROHI ONLINE

जयपुर-जिस समय नेता सरकारी गाड़ी, गनमैन, एस्कॉर्ट लेने के लिए तरह-तरह के जतन करते हैं। वहां भजनलाल सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री संजय शर्मा ने इन चीजों को लेने से मना कर दिया है।

उन्होंने मंत्री बनने के बाद मिली सरकारी गाड़ी और पीएसओ (पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर) को लौटा दिया है। क्षेत्र में पुलिस एस्कॉर्ट लेने से भी मना कर दिया है। उनका कहना था कि हमें जनता ने चुनकर विधानसभा भेजा हैं, हमें काहे का डर? मुझे किसी तरह का कोई डर नहीं है।

मंत्री संजय शर्मा बिना किसी तामझाम के सचिवालय से लेकर विभाग के दौरे करते हैं। वे अपनी पर्सनल कार से ही सचिवालय आते हैं। अगर उन्हें फील्ड में जाना होता है तो भी वे अपनी पर्सनल कार से ही जाते हैं।

संजय शर्मा ने 17 जनवरी को भजनलाल सरकार में मंत्री पद संभाला था। इसके बाद उन्हें सरकारी गाड़ी व पीएसओ मिला था। जिसे उन्होंने 4 फरवरी को सरकार को लौटा दिया है।

ये भी पढे

पहली बार विधायक बनने पर भी नहीं लिया था गनमैन संजय शर्मा अलवर शहर से दूसरी बार विधायक चुने गए हैं। साल 2018 में जब वे पहली बार विधायक बने थे। वे प्रदेश के 200 में से उन चुनिंदा विधायकों में शामिल थे, जिन्होंने सुरक्षा के लिए गनमैन नहीं लिया था।

साल 2018 से 2023 के कार्यकाल में 200 में से केवल 6 विधायक ऐसे थे। जिन्होंने पुलिस का गनमैन नहीं लिया था। इन विधायकों में संजय शर्मा, सिद्धि कुमारी, राजेन्द्र पारीक, ज्ञानचंद पारख, खुशवीर सिंह और भरत सिंह कुंदनपुर शामिल थे। उस समय भी संजय शर्मा ने कहा था कि हमें जनता ने चुनकर विधानसभा भेजा हैं, हमें काहे का डर? मुझे किसी तरह का कोई डर नहीं है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA