सिरोही-आपदा पीड़ित परिवार को 6 माह बाद भी सरकारी सहायता का इंतजार,

PALI SIROHI ONLINE

सिरोही। अचानक हवा के साथ आई तेज बारिश की आपदा में गिरा था आदिवासी का रहवासी आवास, घटना में आदिवासी की बहन ने चारपाई का सहारा लेकर बचाई थी अपनी जांन, धराशायी रहवास के ऊपर रात भर लगातार बरसात गिरते रहने से हुआ था आपदा में लाखों का नुकसान, अब तक 6 माह गुजरने के बाद भी नहीं पहुंचाई प्रशासन ने राहत।

आबूरोड,(सिरोही)
एक आदिवासी का रहवास जिसे स्वयं उसने और अपने परिवार ने रात दिन कठिन परिश्रम कर निर्मित किया था। जिसमें अपना परिवार सुरक्षित रूप से निवास कर रहा था लेकिन गत वर्ष 31 जुलाई 2023 सोमवार रात्रि को तेज अंधड के साथ आई अचानक बारिश से वह रहवास दीवार फटकर धराशायी हो गया।
-घटना में चारपाई के सहारे बाहर निकल गई थी प्रभावित की बहन, लेकिन धराशायी आवास के ऊपर रात पर बरसात गिरते रहने से हुआ था लाखों का नुकसान:-

सिरोही जिले की देलदर तहसील के राजस्व गांव उपलाखेजड़ा की गांव फली निवासी नरसाराम पुत्र भीमाजी गरासिया की बहन रतनी बाई तेज हवा के साथ आई बरसात के समय घटना के दौरान चारपाई के सहारे बचाव कर भाग कर बाहर निकलकर अपनी जांन बचाने में कामयाब हो गई थी। लेकिन तेज हवा और बारिश के थपेड़ो की मार में दीवार फटकर ढहे घर के ऊपर रात भर बारिश गिरते रहने से अंदर 20 बोरी गेहूं, 15 बोरी मक्का, लगभग 30000 रुपयो के रसोई के बर्तन,25000रूपयो के परिवार जनों के पहनने व विवाह के वस्त्र व बिस्तर, 15000रूपयो की मिर्च मसाले रसोई सामग्री,5000 रुपये नकद व अन्य घरेलू सामग्री दबकर रात्रि पर बारिश गिरते रहने से बर्बाद और पूर्णतया नष्ट हो गई थी।

जिसकी प्राथमिकी प्रभावित परिवार के मुखिया नरसाराम पुत्र भीमाजी निवासी उपला खेजड़ा ने रोहिड़ा थाना हल्का थाना अधिकारी के कार्यालय में रोजाना मचा विवरण में दिनांक 4 अगस्त 2023 को ही उपस्थित होकर दर्ज करवाई गई थी लेकिन 6 माह से भी अधिक का समय गुजरने के बाद भी प्रभावित को प्रशासन की ओर से पुनर्वास और क्षतिपूर्ति के पुनर्भरण प्रावधान की सहायता अब तक नहीं पहुंचाई गई है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA