मंदिर में हाथ जोड़ा, फिर चांदी का नाग चुरायाः पीछे की दीवार फांदकर मंदिर में घुसे चोर

PALI SIROHI ONLINE

रानीवाड़ा (जालोर)-चोरी के कर्म में आस्था भी आड़े नहीं आई। चोर ने भगवान शिव को दो बार प्रणाम किया फिर हल्के हाथ से शिवलिंग से लिपटा चांदी का नाग (2 किग्रा) उतार कर ले गया। मामला जालोर जिले के रानीवाड़ा थाना इलाके में कोटड़ा गांव का है। आंद्रेश्वर महादेव मंदिर में रविवार सोमवार की रात 2 बजे चोरी हो गई।

पुलिस थाना इंचार्ज मोहनलाल गर्ग ने बताया- आंद्रेश्वर महादेव मंदिर कोटड़ा गांव से 500 मीटर दूर रानीवाड़ा-भीलमानल स्टेट हाईवे के पास है। मंदिर में चोरी के 2 सीसीटीवी सोमवार सुबह पुजारी संतोष गिरी गोस्वामी ने रानीवाड़ा पुलिस के सुपुर्द किए। सीसीटीवी फुटेज में 2 नकाबपोश चोर दिखे। ये दो बार मंदिर में घुसे थे। एक बार वे रात 1 बजे और दूसरी बार रात 2 बजे मंदिर में घुसे। एक चोर के हाथ में सरिया था। उन्होंने दानपात्र का ताला तोड़ने का प्रयास किया। लेकिन इसे तोड़ नहीं पाए।

आंद्रेश्वर महादेव मंदिर का जीर्णोद्धार चल रहा है। हॉल में रविवार रात पुजारी, श्रद्धालु व मजदूर कुल 15 लोग सो रहे थे। चोर मंदिर की पीछे की दीवार फांदकर पहली बार रात 1 बजे अंदर घुसे। एक बदमाश ने हॉल का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया। वह निगरानी कर रहा था।

दूसरे के हाथ में लोहे का सरिया था। उससे उसने दानपात्र तोड़ने का प्रयास किया। पर नहीं तोड़ पाया। दोनों बदमाश इसके बाद मंदिर से बाहर चले गए। रात 2 बजे के करीब एक चोर दोबारा लौटा। उसके हाथ में सरिया था। उसने शिवलिंग के पास आकर सरिया रखा और दो बार शिवलिंग को प्रणाम किया। इसके बाद चांदी का नाग चुराकर ले गया। उस वक्त चोर के मुंह पर कपड़ा नहीं था।

पुलिस के मुताबिक- हॉल में सोए लोगों का कहना है कि दानपात्र का ताला तोड़ने की आवाज नहीं सुनी। संदेहास्पद लोगों पर नजर है। हाईवे के होटलों के सीसीटीवी खंगाल रहे हैं। जल्द ही घटना का खुलासा करेंगे।

पुजारी बोला- भूल से हॉल में ही रह गया था चांदी का नाग

मंदिर के पुजारी संतोष गिरी गोस्वामी ने बताया- जीर्णोद्धार के कारण शिवलिंग को हॉल में अस्थायी तौर पर स्थापित किया है। नाग को हमेशा अंदर लॉक में रखते हैं। रविवार को यह भूलवश बाहर हॉल में शिवलिंग पर रह गया था। हॉल के गेट को चोरों ने बाहर से बंद कर दिया था। सुबह दर्शन करने आए श्रद्धालुओं ने दरवाजा खोला। चोरी की घटना का पता चलने पर सुबह पुलिस को सूचना दी।

मालवाड़ा सरपंच प्रदीप सिंह देवल ने बताया- आन्द्रेश्वर महादेव मंदिर बहुत पुराना है। इलाके के लोगों की मंदिर में गहरी आस्था है। घटना से लोगों में काफी रोष है। मंदिर में पहले भी चोरी की वारदात हो चुकी है। करीब 25 साल पहले इसी मंदिर में पुजारी की हत्या हो गई थी। अभी तक यह मामला नहीं खुला है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA