रेप पीड़िता के परिवार ने धर्म बदलने की दी धमकीः बोले- पूर्व विधायक के दबाव में आरोपी की गिरफ्तारी नहीं, घर पर करवाया पथराव

PALI SIROHI ONLINE

अलवर-नाबालिग से रेप के आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर परिवार ने हिंदू धर्म अपनाने की धमकी दी है। परिवार का आरोप है कि पूर्व विधायक के दबाव में आकर पुलिस एक आरोपी को बचा रही है। मामले में एफआर तक लगा दी। इससे आरोपी अपनी मनमर्जी पर उतर आया और उनके परिवार पर पथराव करवाकर रुपए लेने का आरोप लगा दिया।

अब पीड़ित परिवार ने आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को 5 दिन का समय दिया है। ऐसा नहीं होने पर हिंदू धर्म अपनाने की बात कही है। वहीं एसपी आनंद शर्मा का कहना है कि मामले की दुबारा जांच एएसपी से करा रहे हैं।

घर से मुंह दबाकर उठाकर लेकर गए थे आरोपी घटना अलवर के रामगढ़ के एक गांव में 1 जुलाई 2023 की है। 14 साल की नाबालिग के फूफा ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। रिपोर्ट में बताया था कि बच्ची के पिता ड्राइवर होने के कारण अक्सर घर से बाहर रहते थे। घटना के दिन मां और छोटे भाई बहन घर पर ही थे।

गांव के ही दो युवक इरफान (25), आदिल (दिल्ला) (25) ने रात को कॉल कर कहा कि तुम्हारे पिता ने कुछ पैसे भेजे हैं। वो देने आए हैं। घर का गेट खोलते ही दोनों ने नाबालिग का मुंह दबा दिया और उठाकर ले गए थे। घर के पास ही एक खाली प्लॉट में ले जाकर रेप किया था। लड़की के चिल्लाने पर आरोपी भाग गए थे। इसके बाद 2 जुलाई को पुलिस को मामले की जानकारी दी थी। पुलिस ने मेडिकल भी कराया, जिसमें रेप की पुष्टि हुई थी।

पूर्व विधायक के दबाव में आरोपी को छोड़ने का आरोप पीड़ित परिवार सोमवार को अलवर एसपी के पास पहुंचा और रेप के दूसरे आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की। पीड़िता के फूफा ने बताया कि पुलिस ने मामले के डेढ़ महीने बाद आरोपी इरफान को गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन दूसरे आरोपी आदिल को पूर्व विधायक का दबाव पड़ने के कारण बचाते रहे।

उल्टा उसके मामले में एफआर लगा दी। इससे आरोपी पक्ष मजबूत हो गया और पीड़िता के घर पथराव करवा दिया था। यहां तक कि पीड़िता के परिवार पर रुपए लेने का आरोप लगा दिया था। रामगढ़ पुलिस ने सुनवाई नहीं की। इससे परेशान होकर परिवार अलवर एसपी ऑफिस आया।

धर्म बदलने की दी चेतावनी

परिवार का कहना है- बार-बार पुलिस अफसरों के चक्कर काटे हैं, लेकिन न्याय नहीं मिल रहा। उल्टा आरोपी को बचाया जा रहा है। अब हमारी एक ही मांग है- दूसरे आरोपी की 5 दिन में गिरफ्तारी हो। ऐसा नहीं होने पर पूरा परिवार हिंदू धर्म अपना लेगा। जिसके लिए मुस्लिम समाज जिम्मेदार होगा। मुस्लिम समाज के मौलानाओं को भी इस बारे में बता दिया गया है।

SP ने कहा- वापस जांच करा रहे एसपी आनंद शर्मा ने कहा कि मामले की वापस जांच एएसपी से करा रहे हैं। मुख्य आरोपी अरेस्ट हो चुका है। अब जांच के अनुसार आगे कार्रवाई होगी। आरोपी पक्ष के परिवार को पाबंद कराया गया है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA