ट्रेन में रिजर्वेशन कोच लगाना भूले, 3 कर्मचारी सस्पेंड: परेशान हुए थे यात्री

PALI SIROHI ONLINE

जोधपुर-जोधपुर से दादर जाने वाली ट्रेन में अतिरिक्त सेकेंड स्लीपर कोच नहीं लगाया गया था। मजबूरन यात्रियों को दूसरे कोच में अहमदाबाद तक खड़े जाना पड़ा। इस लापरवाही पर रेलवे विभाग ने सख्त कदम उठाते हुए 3 कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है। मामले को लेकर जांच भी शुरू की गई है। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

सीनियर डीसीएम जोधपुर मंडल के विकास खेड़ा ने बताया- मामले में रिपोर्ट आने के बाद तीन कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया गया है। जोधपुर से दादर के लिए जाने वाली ट्रेन संख्या 14807 में 2 फरवरी को रिजर्वेशन कोच लगाना भूल गए थे। इसके चलते इस ट्रेन से दादर रूट पर जाने वाले यात्रियों को परेशान होना पड़ा। अलग अलग स्टेशनों पर कोच के इंतजार में खड़े यात्री ट्रेन के पहुंचने पर एक छोर से दूसरे छोर तक कोच ढूंढते नजर आए।

कई यात्री अपने परिवार के साथ पहुंचे थे जो सामान इधर से उधर लेकर जाते काफी परेशान नजर आए। रेल विभाग की लापरवाही के चलते जोधपुर से अहमदाबाद तक का सफर ट्रेन के एक कोच से दूसरे कोच में सीट की तलाश में भटकते हुए निकालना पड़ा। इस मामले को लेकर जब रेल में यात्रा कर रहे यात्रियों ने शिकायत की तो रेलवे की ओर से उन्हें झूठी सफाई दी गई।

नोटिफिकेशन जारी करने के बाद भी चूक
यात्री भार देखते हुए रेलवे ने कई ट्रेनों में कोच बढ़ाने का नोटिफिकेशन जारी किया था। इसी के तहत ट्रेन संख्या 14807 जोधपुर दादर एक्सप्रेस में जोधपुर से दादर तक 2 से 27 फरवरी और दादर से 3 से 28 फरवरी तक एक सेकेंड स्लीपर कोच अस्थाई तौर पर बढ़ाने की घोषणा की गई थी। 2 फरवरी शुक्रवार सुबह 5 बजे यात्री जोधपुर स्टेशन पहुंचे तो अतिरिक्त कोच एसई-1 नहीं मिला। जबकि रेलवे रिजर्वेशन बुकिंग कर चुका था। यात्री कोच ढूंढते रहे। पूछताछ करने पर पता चला कि इस ट्रेन में रिजर्वेशन के लिए कोच नहीं लगाया गया।

ट्रेन रवाना हुई तो यात्री दूसरे कोच में चढ़ गए। उन्होंने खड़े खड़े गंतव्य तक सफर किया। इसके बाद ट्रेन जब सुबह 6:43 बजे समदड़ी स्टेशन पर पहुंची तो यात्रियों ने हंगामा कर दिया। स्टेशन मास्टर से भी मिले। उन्होंने रेलवे डीआरएम से बात की तो अहमदाबाद से कोच लगाने का आश्वासन दिया गया। अहमदाबाद तक जिन यात्रियों ने रिजर्वेशन करवा रखा था उन्हें सीट नहीं मिली। रेलवे की ओर से कोच सिक होने की झूठी सफाई भी दी गई।

विभाग की ओर से कैरेज एंड वैगन विभाग की ओर से कोच बढ़ाने को लेकर सूचना या डिमांड ही नहीं की गई थी। इसके चलते कैरेज एंड वैगन विभाग बिना जानकारी के कोच नहीं बढ़ा सका। नतीजन शुक्रवार को ट्रेन में कोच नहीं बढ़ाया जा सका। इसके चलते ट्रेन में रिजर्वेशन करवाकर यात्रा करने आए यात्रियों को परेशान होना पड़ा।

यह भी पढे

https://palisirohionline.in/2024/02/04/jodhpur-cm-samvad/

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA