सुरंग बनाकर बैंक लूटने की कोशिश करने वाले गिरफ्तार

PALI SIROHI ONLINE

जयपुर-जयपुर के विद्याधर नगर इलाके में सुरंग बनाकर एसबीआई बैंक लूटने की कोशिश करने वाले दो बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही बदमाशों को शरण देने वाले एक अन्य व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है। जयपुर पुलिस ने इन बदमाशों को मुंबई के धारावी से गिरफ्तार किया है। जो राशिद नाम के व्यक्ति के पास रह रहे थे। सभी बदमाशों को शनिवार को जयपुर लाया गया। पूछताछ में सामने आया कि दोनों बदमाश यूट्यूब पर देखा करते थे कि पुलिस बदमाशों को कैसे पकड़ती है। मामले में पुलिस अब तक चार लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

डीसीपी नॉर्थ राशि डोगरा ने बताया- 23 तारीख को जैसे ही पुलिस को सुरंग मिली तो पुलिस ने बदमाशों को पकड़ने के लिए टीमें लगा दी थी। इस दौरान पुलिस ने घटना वाले दिन ही अमन खान को पकड़ लिया। जो की इस गैंग का सदस्य था। अमन खान से मिली जानकारी के बाद पुलिस टीमें यूपी रिजवान और सलीम के घर पहुंची। दोनों बदमाश फरार थे। लोकल इंटेलिजेंस से पता चला की वारदात करने वाला रिजवान घटना के बाद कुछ घंटों के लिए घर आया थ। उसके बाद वह भाग गया।

इसके बाद बदमाश आगरा, दिल्ली, कोटा, उन्नाव, सूरत, वडोदरा, अहमदाबाद होते हुए मुंबई में धारावी कच्ची बस्सी में राशिद के घर जाकर रहने लगे। पुलिस टीम को इनपुट मिला तो टीमें मुंबई में धारावी के लिए रवाना की गई। यहां पर दो दिन तक सर्च करने के बाद बदमाशों का पता चला। इसके बाद पुलिस रिजवान. सलीम और दोनों को शरण देने वाले राशिद को लेकर जयपुर पहुंची।

यूट्यूब पर देखते थे कैसे पकड़ती हैं पुलिस

आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि गैंग के मास्टर माइंड रिजवान के खिलाफ आधा दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। रिजवान और उसकी गैंग के अन्य सदस्य यूट्यूब पर देखा करते थे की वारदात होने के बाद पुलिस कैसे बदमाशों को पकड़ती है। किस प्रकार से पुलिस को जानकारी मिलती है कि बदमाश कहां गया होगा। पुलिस सबूत कैसे ढूंढती है। इसलिए इन बदमाशों ने वारदात के दौरान ईदगाह जाकर अपने परिचितों और अन्य गैंग के सदस्यों से बात की
थी।

गैंग के अन्य सदस्य अभी भी पुलिस गिरफ्त से दूर डीसीपी नॉर्थ राशि डोगरा ने बताया- गैंग में कुछ और सदस्य हैं। जो पुलिस की रडार से दूर हैं। इनकी तलाश की जा रही है। टीम को जैसे ही इन बदमाशों की जानकारी मिलेगी एक्शन करेगी। इस गैंग के पुराने रिकॉर्ड और वारदात करने की तरीकों के बारे में पूछताछ की जा रही है। दो दिन पहले ही रिजवान और सलीम पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया था।

करीब एक साल पहले बैंक में डकैती का प्लान बनाया इससे पहले जांच में सामने आया था कि बदमाशों ने करीब एक साल पहले सुरंग बनाकर बैंक में डकैती की पूरी प्लानिंग कर ली थी। कई महीनों तक बदमाश ऐसी जगह की तलाश करते रहे थे, जो सुनसान इलाके में हो और आस-पास एक से ज्यादा बैंक या ज्वेलरी की शॉप हो। जयपुर में रेकी करने के बाद बदमाशों ने विद्याधर नगर थाना क्षेत्र के अंबाबाड़ी में सब्जी मंडी वाली जगह को चुना था।

सब्जी मंडी के पास ही SBI बैंक, सेंट्रल बैंक और एक ज्वेलरी की शॉप पड़ती है। ये तीनों जगहें सब्जी मंडी से महज 400 फीट के दायरे में पड़ती हैं। दिन के समय तो यहां भीड़-भाड़ रहती है और रात यह जगह सुनसान रहती थी। बदमाशों के लिए यह सबसे सही जगह थी। दिन के समय सब्जी मंडी में भीड़-भाड़ के कारण काम करते समय आवाज नहीं आती और रात को यहां कोई आवासीय मकान नहीं होने के कारण पूरी जगह सुनसान रहती थी।

सुरंग का नक्शा तैयार किया, फिर खुदाई शुरू की। बैंक तक पहुंचने के लिए बदमाशों ने दुकान के 15 फीट नीचे बेसमेंट में जाकर सुरंग खोदी ताकि नीचे से किसी दुकान की नींव या कोई पाइपलाइन रुकावट नहीं बन जाए।

खुदाई के दौरान डायरेक्शन चेक करने के लिए बदमाश सेना की तरह ही कंपास का इस्तेमाल करते थे। महज 15 फीट की खुदाई करनी बाकी बची थी। लेकिन लोडिंग टैक्सी का टायर धंसने से सुरंग का राज खुल गया।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA