जालोर-त्वचा इतनी गल चुकी की फिंगर प्रिंट नही ले पा रहे थे , एसडीएम की रिपोर्ट पर अब बनेगा आधार कार्ड

PALI SIROHI ONLINE

जालोर/चरली-50 साल से असाध्य बीमारी से जूझ रहे पादरली पंचायत के थुम्बा गांव के 70 वर्षीय मूलाराम प्रजापत को अब सहायता नहीं मिल पाई। लाइलाज बीमारी से त्वचा इतनी गल गई कि फिंगर प्रिंट नहीं लिए जा सक रहे थे। अब एसडीएम की रिपोर्ट पर आधार कार्ड बनने की उम्मीद जगी है। दो छोटे भाइयों के परिवार कर रहे देखभाल,

दिव्यांग पेंशन भी बंद हुई: मूलाराम को दिव्यांग पेंशन के रूप में प्रतिमाह 1 हजार रुपए मिलते थे। दरअसल उनको जालोर के अस्पताल में दिखाने के बाद उनकी ये पेंशन शुरु की गई थी, लेकिन अब उनको मिलने वाली एकमात्र सरकारी योजना का लाभ भी बंद हो गया। पिछले 10 माह से उनको पेंशन भी नहीं मिली है। भांजे तलसाराम ने बताया कि उसके मामा मुंबई में नौकरी करते थे। उस दौरान बीमारी से अंगूठा कटवाना पड़ा। बीमारी बढ़ती गई और पैर पूरे खोखले होने लग गए। दो छोटे भाई देखभाल कर रहे हैं।

कलेक्टर बोले-ऐसे और भी पीड़ित हैं तो एसडीएम से संपर्क कर सकते हैं

  • यह मामला कुछ दिन पहले ही संज्ञान में आया है। इसमें एसडीएम को ही पॉवर है। आहोर एसडीएम को बोल दिया है। जल्द ही पीड़ित का आधार कार्ड बन जाएगा।
  • निशांत जैन, कलेक्टर, जालोर इस बारे में पहले जानकारी मिली थी। इसके लिए कोशिश की थी, लेकिन फिंगर प्रिंट नहीं आ पाने से आधार कार्ड नहीं बन पाया। आज ही स्वास्थ्य विभाग एवं राजस्व विभाग की टीम बनाकर जांच के लिए भेज दी जाएगी। साथ ही जल्द से जल्द जिन जिन सुविधाओं का लाभ मिल सकता है उसके लिए पूरे प्रयास किए जाएंगे। – कुसुमलता चौहान, एसडीएम

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA