पाली-राघवेन्द्र 2024 में घर आए राम पर वार्षिकत्सव का आयोजन

PALI SIROHI ONLINE

राघवेन्द्र 2024 में घर आए राम पर वार्षिकत्सव का आयोजन

पाली संवाददाता सरस्वती शिक्षा समिति द्वारा संचालित सरस्वती विद्या मंदिर, ताड़केश्वर रामेश्वर सरस्वती बालिका, सरस्वती शिशु मंदिर का सयुक्त वार्षिकोत्सव “राघवेन्द्र 2024” का आयोजन मंडिया रोड स्थित सरस्वती शिशु मंदिर मैदान में किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन और वंदना के साथ किया गया।
उत्सव प्रभारी नितेश तोसावरा ने बताया कि आयोध्या में प्रभु श्री राम की प्राण प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में कार्यक्रम की थीम श्री राम की जीवनी व रामायण प्रसंगो पर आधारित रही। कार्यक्रम में अतिथि परिचय जिला सचिव चन्दन सिंह जी एवं विद्यालय का वार्षिक प्रतिवेदन महावीर सालेचा व्यवस्थापक सरस्वती शिक्षा समिति द्वारा प्रस्तुत किया गया।

कार्यक्रम में विद्यालय के भैया बहनों द्वारा भगवान श्री राम का नाट्‌य चित्रण प्रस्तुत किया गया। श्री राम आयेगे हमारे अंगना पर छात्रों ने मनमोहक प्रस्तुति दी।
भैया बहनों द्वारा रामजन्म से राज्याभिषेक तक रामलीला मंचन किया गया जिसमे सभी किरदारों का मनचं द्वारा भैया बहनों के नाटक और सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया
तोसावरा ने बताया की भैया बहिनो द्वारा’ राघवेन्द्र 2024′ कार्यक्रम के तहत रामायण का सम्पूर्ण मंचन किया गया। भगवान राम के जन्म प्रसंग, शिक्षा दीक्षा एवं राजतिलक के समय और भगवान के वन गमन के सीता हरण से दर्शक भावुक हो गये। भगवान राम पाषाण शिला अहिल्या उध्दार कार्यक्रम ने दर्शकों को मोहित किया । भरत श्री राम के मिलाप का प्रसंग बहुत ही कारुणिक रूप से किया गया जिससे दर्शक भी भावुक हुए। भैया बहनों द्वारा राम रावण युद्ध व वापस आयोध्य में राम राज्याभिषेक तक का मंचन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि देव स्थान एवम गोपालन मंत्री की जोराराम कुमावत ने कहा कि अयोध्या के प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम सम्पूर्ण मानव जाति के लिए गर्व का पल है। सभी को इस दिन को उत्सव के रूप में मनाना चाहिए। उन्होने भैया बहिनो के द्वारा दी जा रही प्रस्तुतियो की सराहना की ओर मंत्री जी ने कहा आज के समय में संस्कार सिर्फ और सिर्फ हमारे विद्या भारती के विद्यालय में ही जीवित है और विद्या भारती में संस्कार शिक्षा का आधार है
कार्यक्रम के अध्यक्षता कर रहे पूर्व विधायक श्री ज्ञानचंद पारख ने कहा कि हमारे विद्यालय के भैया बहने राष्ट्र भक्ति के लिए और ज्ञान शील एकता के लिए सदैव आगे रहते है और जब जब राष्ट्र को समर्पित कार्य की बात आई है जिसे आपदा,कुष्ठ रोगियों, सीमावर्ती क्षेत्र के लिए हर वर्ष हमारे विद्या भारती के भैया बहन उनकी सेवा में आगे बड़ चढ़ कर सेवा का पुण्य करने में पीछे नहीं रहते है।

रामलीला में इन कार्यक्रम का हुआ आयोजन हम कथा सुनाते ,विश्वामित्र आश्रम ताड़का वध, राम जन्म अहिल्या उद्धार सीता स्वयंवर जनक दरबार केकई दशरथ संवाद वन गमन शबरी प्रसंग हनुमान मिलन सुग्रीव बाली युद्ध लक्ष्मण मूर्छित राम रावण युद्ध राज्याभिषेक बालिका द्वारा रावण मार राम घर आए और राम आयेगे आयेगे राम आयेगे पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इनको किया सम्मानित
अतिथियों द्वारा कक्षा पांचवी से बाहरवी बोर्ड में और विद्यालय स्तर पर प्रथम आने वाले
बौद्धिक प्रतियोगिता प्रांत स्तर से अखिल भारतीय स्तर पर अपना स्थान बनाने वाले को पारितोषिक प्रदान कर के सम्मानित किया गया
इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि श्री विनय बम्ब श्री सुनील गुप्ता श्री राधेश्याम राठी श्री कमलकिशोर गोयल श्री विजयराज जैन श्री रमेश सांड पूर्व सभापति श्री महेंद्र बोहरा प्रांत सचिव श्री महेंद्र दवे प्रधानाचार्य श्री अनिल कुमार बिस्सा श्रीमती दीपिका ओझा श्री लक्ष्मी चौधरी आदि ने संबोधित किया

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA