आबूरोड़ घर से भागे नव विवाहित जोड़े ने चलती बस से लगाई छलांग: युवती की मौत, युवक घायल; 5 दिन पहले की थी शादी

PALI SIROHI ONLINE

आबूरोड-घर से भागकर आर्य समाज मंदिर में प्रेम विवाह करने वाले युवक-युवती ने बस में अपने एक रिश्तेदार को देखकर खिड़की खोलकर चलती बस से सड़क पर छलांग लगा दी। इससे लड़की की मौत हो गई और लड़का गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है। हादसा सोमवार अलसुबह करीब 3:20 बजे नेशनल हाईवे-27 पर आबूरोड रीको थाना क्षेत्र के चंद्रावती के पास हुआ। दोनों अहमदाबाद से जालोर की बस में सफर कर रहे थे।

आबूरोड रीको थानाधिकारी सुरेश चौधरी ने बताया- मिठाना का बेरा रास चांदना पुलिस थाना बागरा जालोर निवासी हनुमानाराम (25) पुत्र शांतिलाल गर्ग और मेघवालों का बास बिशनगढ़ निवासी पूजा कुमारी (22) पुत्री कुईयाराम गर्ग अहमदाबाद से जालोर जाने वाली बस में बैठे थे। उन्होंने घर से भागकर अहमदाबाद में आर्य समाज में लव मैरिज कर ली थी। दोनों रविवार रात अहमदाबाद से जालोर आने वाली बस से रवाना हुए थे। उसी बस में एक रिश्तेदार भी आ रहा था। उसको देखकर सोमवार अलसुबह करीब 3:20 बजे नेशनल हाईवे-27 पर आबूरोड रीको थाना क्षेत्र के चंद्रावती के पास दोनों एक साथ सीट से खिड़की खोल कर कूद गए। चलती बस से कूदने पर दोनों घायल हो गए और सड़क किनारे पड़े थे। बस में किसी को दोनों के कूदने का पता नहीं चला। इस

कारण बस मौके पर नहीं रुकी।

RTO अधिकारियों ने सड़क किनारे पड़े देखा परिवहन विभाग के अधिकारी रात्रि गश्त के दौरान हाईवे से गुजर रहे थे तो दोनों को घायल अवस्था में सड़क किनारे पड़ा देखा। इस पर उन्होंने आबूरोड रीको थाना पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही उपनिरीक्षक कानाराम सिरवी मौके पर पहुंचे।

आर्य समाज में की थी शादी

एसआई कानाराम ने बताया कि दोनों घायलों को निजी वाहन से आबूरोड जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टर्स ने पूजा को मृत घोषित कर दिया। कानाराम ने बताया कि दोनों के पास से दो स्क्रीन टच मोबाइल टूटे हुए मिले, जिनमें से एक मोबाइल चालू हालत में था। हनुमानाराम और पूजा के पास मिले पहचान पत्र से दोनों की पहचान हुई। साथ ही 10 जनवरी 2024 को आर्य समाज मंदिर में शादी करने का प्रमाण-पत्र भी मिला।

मोबाइल से पूजा के मामा जबराराम निवासी मिठाना का बेरा रास चांदना पुलिस थाना बागरा जिला जालोर से संपर्क किया गया। जबराराम ने बताया कि पूजा कुमारी निवासी मेघवालों का बास बिशनगढ जिला जालोर है।

दोनों घर से लापता थे
जबराराम ने बताया- मेरी भांजी घर से लापता थी। घरवाले उसे ढूंढ रहे थे। जबराराम ने बिशनगढ़ थाने के हेड कॉन्स्टेबल भूपाराम से बात करवाई तो उसने बताया कि पूजा कुमारी की गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज है। बिशनगढ़ से जांच अधिकारी हेड कॉन्स्टेबल भूपाराम ने पूजा और हनुमानराम के परिजनों को मामले की सूचना दी। सूचना पर परिजन सीएचसी आबूरोड आए। पूजा का पोस्टमॉर्टम करवाया गया। वहीं, घायल हनुमानराम बयान देने की स्थिति में नहीं है।

पूजा के मामा जबराराम ने बताया कि पूजा मेरी सगी बहन की लड़की है। उसके पिता नहीं है। पूरी परवरिश मैंने ही की है। हमारे रिश्तेदार ने कॉल पर मेरी बहन को बताया था कि पूजा अहमदाबाद से जालोर आ रही है। रिश्तेदार भी उसी बस में सवार थे, जिसस बस में पूजा भी थी। सूचना मिलते ही जबराराम ओर बिशनगढ़ थाने से दो कॉन्स्टेबल सामने से आ रहे थे। इस बात की भनक पूजा और हनुमानाराम को लगी तो वो खिड़की से कूद गए।

75 किमी बाद दोनों के गायब होने का पता चला बस ड्राइवर मान गिरी ने बताया कि दोनों पीछे वाली स्लीपर सीट पर थे। चंद्रावती के पास गाड़ी की स्पीड कम होने पर दोनों ने छलांग लगा दी। वहीं, जब 75 किमी दूर सिरोही के बाबा रामदेव होटल पर बस रोका महिला ने दोनों को गायब देखा। मृतका के परिजनों ने अभी तक आबूरोड़ थाने में कोई रिपोर्ट नहीं सौंपी।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA