सब निर्दलीयों की बारात है, अच्छे-अच्छे की जमानत हुई जब्तः विधायक बोले-चुनाव में दिया धोखा, कांग्रेस को डलवाए वोट

PALI SIROHI ONLINE

चित्तौड़गढ़-चित्तौड़गढ़ विधानसभा से चुनाव जीतने के बाद विधायक चंद्रभान सिंह आक्या इन दिनों लगातार अलग-अलग मंडलों में कार्यकर्ता सम्मेलन कर रहे हैं। वह अपने कार्यकर्ताओं को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए तैयार कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने नरपत सिंह राजवी के साथ हुए धोखे का भी उल्लेख किया। साथ ही अवसरवादी लोगों को वह दिन याद करने के लिए कहा, जब विधायक ने उनका साथ दिया था।

वहीं, विधायक ने अपने प्रतिद्वंदियों को जवाब देते हुए कहा कि निर्दलीयों की बारात कहां जाएगी, इसकी चिंता करने की किसी को जरूरत नहीं। इस बारात ने अच्छे-अच्छों की जमानत जब्त करवा दी है।

सभी ने बहुत कुछ सहा है, लेकिन आप लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटना है

बीती रात चंदेरिया मंडल के कार्यकर्ताओं का सम्मेलन था। जहां विधायक ने अपने कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया और आगामी चुनाव को तैयारी करने के लिए मोटिवेट किया। उन्होंने इस दौरान कहा कि इस चुनाव में भी विधानसभा चुनाव में भी हो सब लोगों ने खूब ताने सुने हैं। खूब तरह की की बातें सुनी है, उलहाने सुने हैं। उसके बाद भी मेरे साथ खड़े रहे। इसीलिए आज हमारी चुनाव में जीत हासिल हुई है। लेकिन आगामी कोई इस चीज के लिए घमंड मत करना। अब लोकसभा चुनाव के लिए सभी को अभी से तैयारी शुरू करनी है। हर एक वार्ड में जाकर विकास कार्य करवाना है। साथ ही लोगों की हर समस्या को जानकर उन्हें सुलझाना है।

यह निर्दलीयों की बारात है, किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं

बीजेपी के कुछ पदाधिकारियों का नाम लिए बिना विधायक ने कहा कि बहुत जने बातें कर रहे हैं कि यह बारात कहां जाएगी और कहां उठेगी। मैं उन सभी को कहना चाहता हूं कि यह निर्दलीयों की बारात है। उसकी चिंता आपको करने की जरूरत नहीं है। इस बारात में अच्छे-अच्छे की जमानत जब्त करवा दी है। यहां तक की अच्छे बूथों की और अच्छे मजबूत नेताओं की जमानत जब्त कर दी है। हम मजबूत है, इसलिए हमारी चिंता करने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि चुनाव की बात करने वाले वह लोग कौन होते हैं। कभी खुद चुनाव लड़के देखो, आपकी खुद की भी जमानत जप्त हो जाएगी।

मुझे हराने के लिए कांग्रेस से मिल गए, मन में है खुन्नस
विधायक ने कहा कि मुझे यह बात नहीं करनी चाहिए लेकिन मन में खुन्नस है कि बीजेपी चंद्रभान को हराने के लिए कांग्रेस के जाड़ावत को जीताना चाहते थे। आज मेरे हिस्से में 5 से 7000 वोट ज्यादा आते लेकिन बीजेपी के वोट कांग्रेस में डलवाए गए, ताकि मैं ना जीत सकूं। इससे बड़ी चीज नहीं हो सकती। इसका प्रूफ भी है मेरे पास। हम लोकसभा चुनाव में ताकत से लड़ेंगे, जिसके साथ रहना है उसके लिए ताकत से लड़ेंगे। इन लोगों को कुछ भी कहने से पहले शर्म आनी चाहिए जिन्होंने राजवी साहब को यहां लेकर आए। उनके साथ धोखा किया और कांग्रेस के साथ लग गए। इन लोगों के बातों में आने की जरूरत नहीं है।

चुनाव में पता चला कौन अपना है और कौन नहीं उन्होंने अवसरवादी लोगों के लिए कहा कि कुछ लोग रास्ता भटक गए हैं। उनको सही दिशा में लाना होगा। इस विधानसभा चुनाव में छटनी भी हो गई। काफी लोग थे जिनकी मैं मदद की और उनका किसी भी काम में कोई कमी नहीं छोड़ी थी। हर कदम में उनके साथ खड़ा था। लोग अवसरवादी होते हैं। वह अवसरवादी लोग कहीं ना कहीं चले गए। उन्हें यह दिन याद आएंगे कि कौन सा सच्चा था और कौन अच्छा था। इसलिए मैं अवसरवादी लोगों को कहना चाहता हूं कि यह घड़ी रुकने वाली नहीं है। यह बारात कहीं आने जाने वाली भी नहीं है यही रहूंगा।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA