मोबाइल गेम खेलने पर टोका तो फंदे से लटकी स्टूडेंट: पिता ने डांटा 10वीं में हो पढ़ाई कर लो, नाराज होकर आत्महत्या की

PALI SIROHI ONLINE

कोटा-कोटा में एक 15 साल की नाबालिग ने फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। बालिका को उसके पिता ने मोबाइल गेम खेलने से मना किया और डांटा था। इस बात से नाराज होकर उसने फंदा लगा लिया। रविवार को पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया।

बोरखेड़ा थाने के सीआई जितेंद्र सिंह ने बताया कि मामला बोरखेड़ा के बजरंग नगर का है। यहां के रहने वाले बनवारीलाल बेटी कृपांशी (15) शनिवार शाम मोबाइल पर गेम खेल रही थी। बनवारीलाल प्राइवेट काम करते हैं। उन्हें काम पर जाना था। उन्होंने कृपांशी से मोबाइल मांगा और कृपांशी को डांट दिया। उन्होंने कहा कि पढ़ाई में ध्यान लगाओ, दसवीं क्लास में पढ़ती हो एग्जाम आने वाले हैं। दिनभर जब भी देखो मोबइल में लगी रहती है। पिता की डांट से कृपांशी नाराज हो गई और मोबाइल देकर कमरे में चली गई।

खाने के लिए बुलाया तो लगा पता काफी देर तक वह कमरे से बाहर नहीं आई। रात करीब आठ बजे उसे खाने के लिए आवाज लगाई, लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। काफी देर तक दरवाजा खटखटाया, लेकिन दरवाजा नहीं खुला। इस पर घरवालों को आशंका हुई। पड़ोसियों को बुलाया और दरवाजा तोड़कर देखा तो अंदर कृपांशी फंदे पर लटकी हुई थी। उसे फंदे से उताकर एमबीएस अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव को एमबीएस अस्पताल की मॉर्क्युरी में रखवा दिया।

नाराज हो जाती थी इसलिए नहीं दिया ध्यान पोस्टमार्टम करवाने पहुंचे थाने के हैड कॉन्स्टेबल द्वारका लाल ने बताया कि घरवालों से जानकारी लेने पर सामने आया है कि कई बार उसे मोबाइल पर गेम खेलने और वीडियो देखने को लेकर पिता डांट दिया करते थे। इससे वह नाराज हो जाती थी। शनिवार शाम को भी पिता ने डांटा तो वह नाराज होकर कमरे में चली गई। ऐसे में घरवालों को लगा नहीं कि वह ऐसा कदम उठा लेगी।

नाराज हो जाती थी कुछ देर बाद गुस्सा खत्म होने पर फिर घरवालों से बात कर लिया करती थी। लेकिन शनिवार को उसने सुसाइड कर लिया। पुलिस के अनुसार पिता की डांट से ही सुसाइड की बात सामने आई है। इसके अलावा कोई दूसरा कारण अभी सामने नहीं आया है। इधर, घरवालों ने मामले में कोई बात करने से साफ मना कर दिया।

कमरे में थीं बुजुर्ग महिला, उन्हें पता लगा सुसाइड का जिस कमरे में कृपांगी ने सुसाइड किया, उस कमरे के बाथरूम में घर की एक बुजुर्ग महिला थीं। परिजनों को भी इस बात का पता था। इस बुजुर्ग महिला को भी कृपांगी के कमरे में आने और फांसी लगा लेने का पता नहीं चला। वे नहाकर निकली तब देखकर शोर किया, जिससे सभी परिजनों को पता लगा।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA