पाली में 5वीं के स्टूडेंट संदिग्धहालत में मौत

PALI SIROHI ONLINE

पाली-पाली के बांगड़ हॉस्पिटल में सोमवार शाम को इलाज के दौरान 5वीं में पढ़ने वाले एक मासूम की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि कुछ दिन पहले स्कूल में नीचे गिरने से उसके हाथ में फेक्चर हो गया था। इलाज करवाया लेकिन सोमवार को तबीयत बिगड़ने पर उसे पाली लाए। वही प्रारंभिक जांच में डॉक्टर मौत का अंदरूनी चोट से बॉडी में खून बहना मान रहे है। मासूम की मौत का पुख्ता कारण तो अब पोस्टमार्टम होने के बाद ही सामने आएंगा। इधर मासूम की मां और उसके पिता का रो-रो कर बुरा हाल था। वे बस एक ही बात कह रहे थे। ऐसा कुछ हुआ ही नहीं। हम तो अपने बेटे को जिंदा हॉस्पिटल लेकर आए थे अब बॉडी लेकर जाना पड़ेगा।

दरअसल मामला पाली जिले के रोहट का है। यहां रहने वाले किसान भगाराम पटेल ने बताया कि उनका 10 साल का बेटा पुरुषोत्तम रोहट के एक निजी स्कूल में कक्षा 5वीं में पढ़ता है।

15 दिसम्बर को स्कूल में खेलते समय वह गिर गया। जिससे उसके हाथ में चोट आई। जब उसने बताया कि हाथ दर्द कर रहा है तो रोहट हॉस्पिटल ले गए। एक्स-रे करवाया तो पतावचला कि हाथ फेक्चर है। इसलिए पट्टा बंधवाने का बोला गया। ऐसे में बेटे को लेकर वे सालावास गए और वहां उसके हाथ पर पट्टा बंधवाया। उसके बाद वे दो दिन स्कूल भी गया। 25 दिसम्बर की शाम को उसने सांस लेने में तकलीफ होने की बात कही। इस पर तुरंत उसे पाली के बांगड़ हॉस्पिटल लाए। जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

मेरा बेटा मरा कैसे जांच हो
मामले में मासूम के पिता भगाराम पटेल ने बताया कि उनके बेटे का तो सिर्फ हाथ फेक्चर था। उससे कोई मरता नहीं है। उसकी मौत कैसे हुई। इसकी जांच करवा उन्हें न्याय दिलाया जाए।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA