पूर्व विधायक, RPS सहित 9 के खिलाफ पॉक्सो का केस: रेप पीड़िता का आरोप- मेरी नाबालिग बेटी के साथ भी करते थे छेड़छाड़

PALI SIROHI ONLINE

जोधपुर/बाड़मेर-बाड़मेर के पूर्व कांग्रेस विधायक मेवाराम जैन, राजस्थान पुलिस सर्विसेज (RPS) के अधिकारी सहित 9 लोगों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज हुआ है। रेप पीड़िता का आरोप है कि जैन और उसके साथी रामस्वरूप ने उसके साथ रेप और उसकी नाबालिग बेटी के साथ भी अश्लील हरकत की। वहीं, आरपीएस सहित शेष 7 लोगों ने झूठे केस में फंसाकर लगातार प्रताड़ित किया।

महिला ने जोधपुर के राजीव गांधी नगर थाने में बुधवार देर शाम मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जैन के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) भी जांच कर रहा है। वहीं, मेवाराम ने अक्टूबर में कुछ लोगों के खिलाफ शिकायत देते हुए आरोप लगाया था कि एक गिरोह उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है।

2 साल पहले रेप करने का आरोप
थानाधिकारी शकील अहमद के मुताबिक 2021 में महिला बस में पचपदरा अपने पिता के इलाज के लिए जा रही थी। बस में आरोपी रामस्वरूप मिला, उसने महिला से दोस्ती की और फिर उसे किसी होटल में लेक जाकर उसे नशे की गोलियां दी और फिर रेप किया। रेप के दौरान उसने वीडियो और फोटो भी बना लिए।

इसके बाद ब्लैकमेल करने लगा और वायरल करने की धमकी देकर कई बार रेप किया। इसके बाद उसने पूर्व विधायक मेवाराम जैन से मिलवाया तो उसने भी रेप किया। महिला बदनामी के कारण डरी हुई थी, ऐसे में उससे अन्य महिलाओं को भी आरोपियों के पास लाने के लिए दबाव बनाया गया। आरोप है कि महिला के घर उसकी सहेली आई थी, तभी आरोपी आए और उसकी सहेली के साथ भी रेप किया।

पूर्व विधायक, उपसभापति, डिप्टी, कोतवाल सहित 9 आरोपी रिपोर्ट में आरोप लगाया कि उसकी 15 साल की नाबालिग बेटी के साथ भी छेड़छाड़ करते थे। जैन और रामस्वरूप ने कई बार रेप किया। रामस्वरूप कई बार बाड़मेर होटल में ले जाकर भी रेप किया। बेटी के साथ हुई हरकत के बारे में जब महिला को पता चला तो उसने बाड़मेर के कोतवाली थाने में केस दर्ज कराने की गुहार लगाई तो वहां केस दर्ज करने के बजा उसे प्रताड़ित किया। वहां के थानाधिकारी, एसआई और आरपीएस अधिकारी उनको प्रताड़ित करते थे।

महिला का आरोप है कि आरोपियों ने उसके साथ तो रेप किया साथ ही उसकी सहेली को भी शिकार बनाया, उसकी बेटी के सामने अश्लील हरकत करतें और जब महिला घर पर नहीं होती तो बेटी के साथ छेड़छाड़ करते थे। महिला ने पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज करने में बाधा उत्पन्न करने और महिला को धमकाने का भी आरोप लगाया है।

इधर, महिला की शिकायत पर पुलिस ने पूर्व विधायक मेवाराम जैन समेत आरपीएस आनंद राजपुरोहित, कोतवाली थानाधिकारी गंगाराम खावा, एसआई दाऊद खान, रामस्वरूप आचार्य, उपसभापति सुरतान सिंह, प्रधान गिरधर सिंह सोढ़ा, प्रवीण सेठिया और गोपालसिंह राजपुरोहित के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

ईडी ने 15 नवंबर को की थी शिकायत दर्ज
15 नवंबर को ईडी जयपुर ने बाड़मेर के पूर्व विधायक मेवाराम जैन की ओर से दर्ज कराई गई सेक्सटॉर्शन की शिकायत के संबंध में धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) का मामला दर्ज किया था। हाल ही में सोशल मीडिया पर उनकी कुछ तस्वीरें सामने आने के बाद उन्होंने दावा किया था कि यह फोटो एडिटेड है।

इसके बाद जैन ने बीते दिनों कोतवाली में एफआईआर दर्ज करवाई थी। इसमें आरोप लगाया था कि उन्हें ब्लैकमेल किया जा रहा था। मेवाराम जैन ने बाड़मेर पुलिस में जो एफआईआर दर्ज करवाई है, उसी के आधार पर ईडी मनी ट्रेल की जांच कर रही है। इस संबंध में एक पीएमएलए का मामला दर्ज किया है, क्योंकि यह पता चला है कि लगभग 5 करोड़ रुपए का ट्रांजेक्शन किया गया था।

30 अक्टूबर को पूर्व विधायक ने ब्लैकमेल करने का करवाया था मामला दर्ज
इससे पहले पूर्व विधायक मेवाराम जैन पर जब आरोप लगे तो उन्होंने 30 अक्टूबर को बाड़मेर के कोतवाली थाने में ब्लैकमेल करने का मामला दर्ज करवाया था। उनका आरोप था कि लंबे समय से दयालराम पुत्र घेवरराम निवासी जोलियाली, शैलेंद्र अरोड़ा वकील व एक अन्य महिला सहित कुछ लोगों का एक गिरोह उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है। वर्तमान में बाड़मेर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहा हूं तथा राजनीतिक भविष्य है, इससे मुझसे काफी लोग राजनीतिक दुर्भावना रखते हैं जो इस गिरोह से जुड़े हुए हैं।

गिरोह धमकी दे रहा है कि हमारे पास आपके एडिट किए फोटो और क्लिप हैं। सोशल मीडिया पर शेयर कर बदनाम कर राजनीति चौपट कर देंगे, अन्यथा 10 लाख रुपए हमें दे दो, नहीं तो उसका खामियाजा भुगतने के लिए तैयार रहो। यह गिरोह 10 लाख रुपए नहीं देने पर रेप का मामला दर्ज करवाने की धमकी दे रहा है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA