भाजपा कार्यकर्ता का सिर कुचल कर हत्या: बेटा ढूंढने निकला तो सवेरे नाले के किनारे मिला शव

PALI SIROHI ONLINE

उदयपुर-भाजपा कार्यकर्ता की देर रात पत्थरों से कुचल कर हत्या कर दी गई। सुबह 6 बजे जब वह नहीं लौटा तो बेटा उसे ढूंढने निकला। घर से 300 मीटर की दूरी पर उसे सिर कुचली लाश दिखी तो उसकी चीख निकल गई। सिर को इतना बुरी तरह से कुचला गया था कि एक बारगी तो पहचानना मुश्किल था। कपड़ों से बेटा पहचान कर पाया। हत्या की सूचना मिलने पर ग्रामीण और स्थानीय नेता भी मौके पर पहुंचे थे। शव का चेहरा इतनी बुरी स्थिति में था कि जिसने भी देखा उसकी रूह कांप गई।

25 दिसंबर को मतदान के दिन वह भाजपा के झाड़ोल प्रत्याशी बाबूलाल खराड़ी के लिए वोटर को पोलिंग बूथ तक लाने के काम में जुटा था। इस हत्या को चुनावी रंजिश से जोड़कर देखा जा रहा है। सूचना मिलते ही यहां से भाजपा के मौजूदा विधायक बाबूलाल खराड़ी भी यहां अन्य स्थानीय नेताओं के साथ पहुंचे। मामला उदयपुर के फलासिया थाना क्षेत्र का है।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे फलासिया थानाधिकारी करनाराम ने बताया कि मृतक का नाम कांतिलाल (45) है। कांतिलाल के बेटे सुनील चव्हाण ने पुलिस को इसकी सूचना दी थी। देर रात किसी अज्ञात ने पत्थर से कुचल हत्या कर दी। शव का चेहरा बुरी तरह कुचला हुआ था और जबड़े पर भी बड़ी चोट के निशान थे। पूरे कपड़े खून से लथपथ थे। सुबह FSL टीम भी पहुंची थी और सबूत जुटाए। शव को फलासिया अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के बाद परिजनों को सुपुर्द कर दिया। परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कपड़ों से पहचान पाया बेटा
कांतिलाल के सबसे बेटे सुनील (30) ने बताया कि पिताजी खेती करते थे। शनिवार को मतदान था तो सुबह से ही चुनावी कार्य में लगे थे। मेरी माताजी भी गांव से बाहर झाड़ोल गई हुई थी। जब रात को पिताजी नहीं आए तो हमने सोचा कि शायद कहीं और रुके होंगे। इसके बाद रविवार सुबह उठे और वे नहीं दिखे तो मैं ढूढ़ने निकला। घर से थोड़ी ही दूरी पर नाले के पास मुझे औंधे मुंह गिरे हुए दिखाई दिए। पास आया तो मेरी धड़कने बढ़ गई, उनके कपड़ों पर खून लगा था और जैसे ही मैंने उनको पलटा तो मुंह देखकर मेरी चीख निकल गई। पूरा मुंह कुचला हुआ था। दांत भी बाहर की ओर निकल आए थे जबड़ा पूरा फटा हुआ था। यह हत्या बहुत निर्मम तरीके से की गई है। मैंने कपड़ों से पहचान की।

सुनील ने बताया कि वह अहमदाबाद में नौकरी करता है। मतदान के समय घर आया हुआ था। उसके 3 छोटे भाई हैं जो गांव में ही पढ़ाई करते हैं। वहीं एक बहन की शादी हो चुकी है। गई थी, वही तीनों छोटे बेटे घर पर ही थे, सुबह 7 बजे के करीब मृतक के पुत्र ने ही लाश को देखा था।

यह घटना दुर्भाग्यपूर्णः खराड़ी
भाजपा विधायक बाबूलाल खराड़ी ने कहा कि ये घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। कल शांतिपूर्ण मतदान हो गया था। मतदान कराने के बाद रात के समय कांतिलाल अपने घर आ रहा था। तभी किसी व्यक्ति ने पत्थर से कुचल कर उसकी हत्या कर दी। कोई भी राजनीतिक दल हो या किसी भी पार्टी का हो। अगर इस तरह का वातावरण बनता है तो ये लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा है।

मंडल अध्यक्ष बोले- लोगों को घर-घर जाकर करते थे मतदान की अपील
फलासिया भाजपा मंडल अध्यक्ष भोपाल सिंह शक्तावत ने बताया कि कांतिलाल बीते एक दशक से भाजपा का कर्मठ कार्यकर्ता रहा है। हर बार की तरह इस बार के मतदान में भी उसने लोगों को वोट कराने में काफी मदद की। वे घर-घर जाकर लोगों से मतदान करने की अपील करते थे। मतदान के दिन भी उन्होंने वाहन के जरिए लोगों को घर से मतदान केंद्र तक लाने का काम किया। शायद इसी कारण रंजिश के चलते किसी ने उनकी हत्या कर दी। पुलिस को मामले में सख्ती से कार्रवाई करनी चाहिए।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA