महिला पर लेपर्ड का हमला कंधे व हाथ पर पंजे से किए घाव,

PALI SIROHI ONLINE

रायपुर-रायपुर उपखण्ड के पहाड़ी क्षेत्र पंचानपुरा गांव के पास पिपलिया बाड़िया में शुक्रवार को खेत में बकरियां चरा रही एक वृद्धा पर लेपर्ड ने हमला कर जख्मी कर दिया । वृद्धा को बाड़िया के लोगों ने लेपर्ड से सुरक्षित बचाकर रायपुर के राजकीय चिकित्सालय में लाया गया जहां उसका प्राथमिक उपचार किया गया।

जानकारी अनुसार रायपुर थाना क्षेत्र के पहाड़ी इलाके के पिपलिया बाड़िया केली देवी (62) पत्नी नवल सिंह रावत शुक्रवार शाम करीब साढ़े पांच बजे अपने घर से कुछ दूरी पर स्थित खेत में बकरियां चरा रही थी। इस दौरान पास में ही घात लगाए बैठे एक लेपर्ड ने वृद्धा पर हमला बोल दिया। हमले में दाहिने हाथ गर्दन के नीचे व कंधे पर दांत पंजे से घाव हो गए। चीख पुकार सुनकर पास घर में मौजूद वृद्धा का देवर दौड़कर आया व लाठियों से लेपर्ड को भगाकर केली देवी को सुरक्षित बचाकर अन्य परिजनों के साथ रायपुर के राजकीय चिकित्सालय में लेकर पहुंचे जहां जख्मी वृद्धा का प्राथमिक उपचार किया गया। देर रात वृद्धा को छुट्टी दे दी गई।

वृद्ध दंपति को जंगली जानवरों से खतरा
पहाड़ी इलाके में रहने वाले ग्रामीणों का कहना है कि छोटे-छोटे बाड़िया के रूप में स्थित घरों के आस पास जंगली जानवरों की आवाजाही रहती है। इससे अकेली महिला व पुरुष को घर दूर मवेशियों के चराने में भी भय का सामना करना पड़ता है । नवल सिंह में बताया कि तीन दिन में तीन शिकार कर चुके लेपर्ड ने शुक्रवार को वृद्धा पर हमला कर दिया। इससे पहले लेपर्ड ने एक भैंस का बच्चा व दो मवेशी को मारकर शिकार किया था। दंपति अपनी बेटी के साथ बाड़िया में ही रहते है। बेटी भी गांव के सरकारी स्कूल में कक्षा 12 में अध्ययनरत है। ऐसे में स्कूल आने जाने के दौरान व दंपति को खेतों में काम करने में भी भय के माहौल में रहना पड़ता है।

वाईल्ड लाइफ एरिया है
स्थानीय ग्रामीणों ने लेपर्ड के मूवमेंट को देखते हुए वन विभाग को पिंजरा लगाकर अन्य जंगलों में छोड़ने की मांग की। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि यह इलाका वाइल्ड लाइफ एरिया है जो बीजा गुड़ा रेंज में आता है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA