डेंगू के 25 मरीज, मलेरिया से 2 भाइयों की मौत हो चुकी

PALI SIROHI ONLINE

जालोर जिला अस्पताल में ओपीडी में दिखाने आने वाले मरीजों की तादात पिछले पंद्रह दिनों में और दिनों से बढ़ गई है। जिले के अन्य राजकीय अस्पतालों में भी मरीज पहले से बढ़ गए हैं। जिले में मलेरिया से दो मौत भी हो चुकी हैं। इन मौतों के बाद सरत गांव में चिकित्सा विभाग की टीम पहुंची और करीबन 640 लोगों के सैंपल लिए।

लार्वा के सैंपल लिए और गांव की नालियों, और अन्य पानी भराव की जगहों पर जला हुआ तेल डाला। जिला सामान्य चिकित्सालय की ओपीडी में अब तक कुल 25 डेंगू के मरीज पाए गए हैं। इनमें से सात मरीज अभी अस्पताल के उ मेडिकल वार्ड में भर्ती हैं। जिनमें 3 पुरुष और 4 महिलाएं हैं। मौसमी बीमारियों को लेकर जिला अस्पताल की ओपीडी अक्टूबर में औसतन 665 थी तो 10 दिनों में 700 के करीब हो गई है। ऐसे में अब औसतन 35 मरीज प्रतिदिन बढ़ चुके हैं।

बुरादे की बनी बॉल डाल रहे
डेंगू सहित मौसमी बीमारियों की रोकथाम एवं बचाव के लिए स्वास्थ्यकर्मी खाली पड़े प्लॉट, भूखंड, खेत इत्यादि में वर्षा के एकत्रित हुए जल में मच्छरों के लार्वा को खत्म करने के लिए एवं लार्वा के प्रजनन को रोकने के लिए लकड़ी के बुरादे से बनी बॉल को कपड़े में लपेट कर पुराने ऑयल में भिगोकर पानी में डाल रहे हैं। सीएमएचओ डॉक्टर रमाशंकर भारती ने बताया कि इससे मच्छरों के लार्वा अंदर ही नष्ट हो जाएंगे और मच्छरों की ब्रीडिंग भी नहीं हो पाएगी।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA