3 इंच बरसात; अलवर-भरतपुर में बारिश, बांधों से पानी छोड़ना जारी

PALI SIROHI ONLINE

जयपुर-राजस्थान के पूर्वी हिस्सों में बारिश का दौर बना हुआ है। भरतपुर, कोटा, जयपुर संभाग में रविवार देर शाम बारिश हुई। झालावाड़ के अकलेरा में 3 इंच से ज्यादा पानी बरसा। अलवर, भरतपुर, दौसा जिले में भी कई जगह बरसात से खेतों में पानी भर गया।

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक पूर्वी राजस्थान के इन एरिया में फिलहाल 2-3 दिन इसी तरह बारिश होती रहेगी। हालांकि पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर, जालोर में फिलहाल मौसम सूखा ही रहने और तापमान ज्यादा रहने की संभावना है

पिछले 24 घंटे की रिपोर्ट देखें तो झालावाड़ के असनावर में 75MM (3 इंच) बरसात हुई। इधर, धौलपुर, चित्तौड़गढ़, दौसा, भरतपुर, अलवर, बारां, सवाई माधोपुर में भी कई जगह बारिश हुई। अच्छी बारिश से राज्य के कुछ बांधों में लगातार पानी आ रहा है।

बरसात के कारण जवाई बांध में लगातार पानी आ रहा है। बांध के 2 गेट खोल कर करीब 160 क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है। इधर, कोटा में बने जवाहर सागर और कोटा बैराज से भी लगातार पानी छोड़ा जा रहा है।

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक मध्य प्रदेश के ऊपर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है। मानसून की ट्रफ लाइन कोटा, गुना, जबलपुर होते हुए बंगाल की खाड़ी की तरफ जा रही है। इस सिस्टम का असर अभी राजस्थान में दो-तीन दिन और देखने को मिलेगा ।

जैसलमेर में पारा 43 डिग्री सेल्सियस

एक तरफ जहां पूर्वी राजस्थान में बारिश हो रही है, तो दूसरी तरफ पश्चिमी राजस्थान में तेज गर्मी । जैसलमेर में रविवार को अधिकतम तापमान 42.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। इसी तरह फलोदी में 41, बीकानेर में 40 और बाड़मेर में पारा 39.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि पश्चिमी क्षेत्र पाकिस्तान से लगातार गर्म हवा राजस्थान में आ रही है, इसी का नतीजा है कि बंगाल की खाड़ी से आ रहे वेदर सिस्टम पूर्वी राजस्थान से जयपुर, अजमेर संभाग से आगे नहीं बढ़ रहे। इन वेस्टर्न विंड की स्पीड इतनी ज्यादा है कि ये इन वेदर सिस्टम को रोक कर उनकी दिशा उत्तर की तरफ घुमा रही है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA