पादरली में थप्पड़ मारने के विवाद के चलते हुई किशोर सिंह की हत्या ,अधिकारियों के साथ वार्ता के बाद शव का हुआ अंतिम संस्कार

PALI SIROHI ONLINE

आहोर-आहोर के पादरली में सरेआम सिर काटकर 22 वर्षीय युवक की हत्या करने के पीछे की प्रारम्भिक पूछताछ में कहानी एक थप्पड़ से शुरू हुई थी। मृतक किशोरसिंह ने इसी हत्याकांड से कुछ घंटे पहले आरोपी सोकलाराम के पोते को किसी छोटे से विवाद को लेकर थप्पड़ मार दी थी।

यह बात सांकलाराम के पास पहुंची तो गुस्से में आकर बस स्टैंड से गांव की तरफ आ रहे किशोरसिंह पर धारदार हथियार से हमला कर सिर काट दिया। आरोपी सिर को लेकर कुछ ही दूरी पर जाकर फेंक फरार हो गया। उसके बाद पादरली से बाइक लेकर भागते हुए करीब 3-4 किमी की दूरी पर स्थित चांदराई पुलिस चौकी में पेश होकर संरेडर कर दिया।

पुलिस ने शव को आहोर मोर्चरी में रखवाया। दूसरे दिन गुरुवार सुबह ग्रामीणों ने शव उठाने से इनकार करते हुए मोर्चरी में दोपहर तक प्रदर्शन कर 6 मांगें रखी। कलेक्टर व ग्रामीणों के बीच वार्ता के बाद शव का अंतिम संस्कार किया। पुलिस ने मृतक के कंवला निवासी जीजा मदनसिंह रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज किया।

गुरुवार सुबह से बड़ी संख्या में भोमिया राजपूत समाज के लोग व ग्रामीण एकत्रित होने लग गए। बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर प्रशासन से 6 मांगे रखी। इसमें सभी वांछित आरोपियों को गिरफ्तार करने व 302 में नामजद आरोपी बनाने, हत्याकांड केस को फास्ट ट्रैक में चलाने व आरोपियों को फांसी की सजा, मृतक परिवार को 1 करोड़ की आर्थिक सहायता एवं सरकारी नौकरी, हत्याकांड में साजिशकर्ता के नाम उगलवाने एवं मृतक के परिवार को बीपीएल में शामिल करने की मांग रखी।

विज्ञापन

जिस पर कलेक्टर निशांत जैन ने प्रतिनिधि मंडल से जिला स्तर की मांगें मानने एवं बाकी के लिए राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजने का आश्वासन देकर धरना समाप्त करवाया। इस दौरान 30 सदस्य कमेटी ने वार्ता की। इस दौरान ऊमसिंह चांदराई, ओमसिंह परिहार, करणङ्क्षसह थांवला समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

पादरली गांव बना छावनी, आरोपी के घर समेत पूरे गांव में पुलिस तैनात घटना के बाद पादरली गांव पुलिस छावनी बन गया। आरोपी व मृतक के घर के आसपास बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती रही। गुरुवार को घटना स्थल पर एसपी किरण कंग सिद्धू समेत पुलिस के अधिकारी पहुंचे। जोधपुर से पहुंची एफएसएल की टीम ने साक्ष्य जुटाए।

जालोर के अलावा पाली से भी जाब्ता बुलाया। एएसपी रामेश्वरलाल, सांचौर एएसपी दशरथ सिंह, महिला उत्पीडन सैल के एएसपी नरेंद्र, डीएसपी रतनाराम देवासी, सीमा चौपड़ा समेत कई थानों के थानाधिकारी व जवानों को तैनात किया था।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA