चलती ट्रेन में साधु की हत्या कर भाग गए हत्यारे, ट्रेन में सफर करता रहा शव

PALI SIROHI ONLINE

खीमाराम मेवाड़ा

जयपुर चलती ट्रेन में साधु की हत्या करने का मामला सामने आया है। साधु की पहचान हरियाणा निवासी के रुप में की गई है। जिस ट्रेन में लाश मिली है वह ट्रेन अजमेर रामेश्वरम 20974 थी। साधु के अचेत होने के बारे मं किसी ने जीआरपी को सूचना दी और उसके बाद अब जीआरपी पुलिस ने लाश को मुर्दाघर में रखवाया। पुलिस लूटपाट करने का अंदाजा लगा रही है। अजमेर जीआरपी पुलिस ने बताया कि हरियाणा के हिसार में रहने वाले रामदिया नाम के साधु के रूप में मृतक की पहचान हुई है।

साधु ने भगवा वस्त्र पहने है। साथ में एक झोला भर है उसमें कुछ कपड़े हैं। शव को जेएलएन अस्पताल में रखवाया गया है। प्रांरभिक जानकारी में सामने आया है कि साधु के साथ संभवतः जहरखुरानी की गई है। उनके सिर और कान के नजदीक गहरे घाव हैं और खून रिस रहा था। उसके बाद सामान लूटा गया है। फिलहाल पुलिस हर संभव तरीके से जांच पड़ताल कर रही है। जीआरपी ने इस बारे में लोकल पुलिस से भी मदद ली है। कई पुलिस टीमें बनाई हैं जो भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन पर जाकर वहां भी पड़ताल करने की तैयारी कर रही है।

भीलवाड़ा पुलिस से भी इस बारे में मदद ली जा रही है। पुलिस हर पहलू की गंभीरता से जांच कर रही है। साधु के परिवार के लोगों से भी संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि 75 साल के साधु रामदिया के बेटे से पुलिस ने संपर्क कर लिया है। साधु का शव पार्सल यार्ड से बरामद किया गया है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA