पाली सर्दी के आहट के साथ मौसमी बीमारियाँ खांसी जुकाम नज़ला व बुख़ार घर घर दस्तक देने लगी

PALI SIROHI ONLINE

दीपक सारसवत की रिपोर्ट

पाली 25 नवम्बर सर्दी के आहट के साथ जहां एक ओर मौसमी बीमारियाँ खांसी जुकाम नज़ला व बुख़ार घर घर दस्तक देने लगी है
वही डेंगू मच्छरों का ख़ौफ़ भी फैलना लगा है , ज़िला मुख्यालय पर स्थित बांगड अस्पताल में प्रतिदिन सैकड़ों मरीज़ उपचार के लिए पहुँचने लगे हैं ।

डेंगू के लक्षण से पीड़ित मरीज़ों के लिए अलग से वार्ड बनाया गया है जहां गंभीर मरीज़ों को भर्ती किया जा रहा है । डेंगू मच्छरों के क़हर से सबसे ज़्यादा पीड़ित मासूम हो रहे हैं ,बांगड अस्पताल के बच्चा वार्ड के हालत यह है कि एक बैंड पर दो दो बच्चों को भर्ती किया जा रहा है । गंदगी व पानी के कारण पनपने वाले मच्छरों का प्रकोप सर्दी में ज़्यादा देखा जा रहा है । अस्पताल में मौसमी बीमारियों के चपेट में आने वाले मरीज़ों का ताँता सा लग गया है सुबह आउटडोर खुलने के साथ पर्ची लेने वाले मरीज़ों की भीड़ नज़र आने लगी है ।

अस्पताल में उपचार के लिए पहुँचने वाले ज़्यादातर मरीज़ मौसमी बीमारी के जकड़न में बुख़ार.खाँसी से पीड़ित है, जिनमें से आधे से अधिक ऐसे मरीज़ भी है जिन्हें अस्पताल में भर्ती किया जा रहा ।

इन बीमारियों के अलावा डेंगू मच्छरों के काटने पर फैलने वाला डेंगू बुख़ार भी पाँव पसारने लगा है ।डेंगू के कारण लगातार बुखार रहने के बाद शरीर में लाल चकते उभरने के साथ प्लेटलेट्स कम होने के लक्षण मरीज़ों में दिखाई देने लगे हैं।

डेंगू के फैलाव के देखते हुए अस्पताल में अलग से वार्ड की व्यवस्था की गई इसमें रोज़ाना आधा दर्जन से ज़्यादा गंभीर मरीज़ों भर्ती किये जा रहे हैं । बांगड़ अस्पताल अधीक्षक डॉक्टर आरके विश्नोई का कहना है कि घर के बाहर कचरा नालियों की सफाई नहीं होने के कारण मच्छरों से फैलने वाली यह एक मॉस्किटो बीमारी है ।यह बीमारी सभी में हो सकती है खासकर 6 से 8 वर्ष तक के बच्चों इसकी चपेट में जल्द आ जाते हैं ।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA