जोधपुर डिस्कॉम संघर्ष समिति ने निजीकरण के विरोध में 10 जिलों से विद्युत कर्मचारीयो ने किया पर्दशन

PALI SIROHI ONLINE

जोधपुर डिस्कॉम संघर्ष समिति के बैनर तले पाली में होने जा रहे निजीकरण के विरोध में संपूर्ण जोधपुर डिस्कॉम के 10 जिलों से विद्युत कर्मचारी आज जोधपुर एकत्रित हुए शास्त्री सर्कल से रैली निकालते हुए लगभग 5000 विद्युत कर्मचारी प्रबंध निदेशक कार्यालय पहुंचे जहां उन्होंने नारेबाजी करते हुए पाली शहर में होने जा रहे निजी करण का पुरजोर विरोध किया मुख्यमंत्री के नाम सचिव जोधपुर डिस्कॉम सुनीता पंकज को ज्ञापन सौपते हुए उन्होंने निगम प्रशासन को चेताया कि यदि पाली में निजीकरण किया जाता है तो संपूर्ण राजस्थान में ब्लैक आउट कर दिया जाएगा जिसकी जवाबदार निगम प्रशासन होगा सुखी पाली शहर लाभ में चल रहा है उसके बाद भी हठधर्मिता पूर्वक अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने की नियत से पाली शहर का निजीकरण किया जाता है तो उसके दुष्परिणाम के लिए निगम प्रशासन तैयार रहें इसके बाद पाली शहर के सभी विद्युत कर्मचारी सेवा संकल्प समिति के अध्यक्ष जबर सिंह राजपुरोहित के साथ वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सुपारस भंडारी के यहां पहुंचे और अपनी व्यथा बताई जिस पर तुरंत प्रभाव से उन्होंने मुख्यमंत्री से वार्ता कर सीएमओ सेक्रेटरी प्रथम कुलदीप राका से इस मामले में पुनर्विचार करने हेतु कहा जिस पर सभी कर्मचारियों ने उनका आभार व्यक्त किया साथ आज पाली विधायक ज्ञानचंद पारख ने दी इस निजीकरण के विरोध में विधानसभा में बोलते हुए ऊर्जा मंत्री को घेरा उन्होंने ऊर्जा मंत्री से पूछा कि किसी भी शहर को निजी क्रम में देने का कोई मापदंड आप द्वारा तय किया गया है या नहीं क्योंकि हमारा पाली शहर जो मेरे विधानसभा क्षेत्र में आता है लाभ में चल रहा है यहां विद्युत चोरी नहीं के बराबर है और कर्मचारियों के व्यवहार भी जनता के साथ सौहार्दपूर्ण है जनता द्वारा आज तक विद्युत कर्मचारियों के खिलाफ किसी प्रकार की आक्रोश रैली का आयोजन नहीं किया गया फिर भी आप द्वारा मेरे पाली शहर को ही निजी करण के लिए क्यों चुना गया

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA