चेयरमैन जितेंद्र प्रजापत के विरुद्ध अविश्वास के बाद अब चेलाराम देवासी संभालेंगे कार्यभार।

PALI SIROHI ONLINE

पिण्डवाड़ा । गुरुवार को स्वायत्त शासन विभाग द्वारा आदेश जारी कर पिंडवाड़ा नगर पालिका में रिक्त पड़े चेयरमैन पद पर चेलाराम देवासी को कार्यभार संभालने के लिए अधिकृत किया गया।

चेलाराम देवासी नगर पालिका के वार्ड नंबर 19 से कांग्रेस के पार्षद एवं वर्तमान उपाध्यक्ष पद पर कार्यरत है।प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर पालिका पिंडवाड़ा में अध्यक्ष जितेंद्र प्रजापत के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पारित होने के बाद से अध्यक्ष के रिक्त पद पर कार्यभार संभालने के लिए उपाध्यक्ष चेलाराम देवासी को अग्रिम आदेशों तक अधिकृत किया गया। गौरतलब है कि पालिकाध्यक्ष जितेंद्र प्रजापत के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का मामला राजस्थान उच्च न्यायालय में विचाराधीन है ऐसे में इस आदेश के जारी होने से सियासी सरगर्मी तेज हो गयी है। वही पिछले 2 सितंबर को चेयरमैन जितेंद्र प्रजापत के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मतदान करवाया गया था।

जिसमें चेयरमैन के पक्ष में विधायक सहित 6 मत एवं अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 20 मत पड़े थे। जिसको लेकर जितेंद्र प्रजापत के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित हो गया था। लेकिन अविश्वास प्रस्ताव के परिणाम को राजस्थान उच्च न्यायालय ने अपने अधीन ही रखा था। जिसकी सुनवाई 7 सितंबर को होनी थी जो टलकर 14 सितंबर हुई और वही सुनवाई 14 सितंबर से चलकर अब आगामी 20 सितंबर हो गई है ।इसी बीच कार्यभार संभालने के इस आदेश के आने से शहर में सियासी सरगर्मी तेज हो गई है। वही देवासी के कार्यभार संभालने के आदेश से देवासी के समर्थकों में खुशी की लहर देखी जा रही है।

पूरा मामला राजस्थान उच्च न्यायालय में है विचाराधीन –

गत 20 जुलाई को नगर पालिका अध्यक्ष जितेंद्र प्रजापत के खिलाफ 20 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था।
जिसमें भाजपा के 8, कांग्रेस के 8 व चार निर्दलीय पार्षद शामिल है। अविश्वास प्रस्ताव को लेकर पालिका अध्यक्ष जितेंद्र प्रजापत एवं पार्षद टीना पुरोहित द्वारा हाईकोर्ट की शरण ली गई। जिसमें 2 मर्तबा स्थगन आदेश जारी हुए तथा 2 सितंबर को हुए अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के परिणाम को उच्च न्यायालय ने अपने अधीन में रखा है ।जिसकी आगामी सुनवाई अभी भी राजस्थान उच्च न्यायालय में विचाराधीन है। जिसमें टीना पुरोहित द्वारा दाखिल रीट पर सुनवाई 22 सितंबर को तथा जितेंद्र प्रजापत द्वारा दाखिल रीट पर सुनवाई 20 सितंबर को होनी है। ऐसे में जितेंद्र प्रजापत के समर्थक अभी भी न्यायालय से आस लगाए बैठे हैं तो उधर अविश्वास प्रस्ताव लाने वाला पूरा खेमा अपनी नई पारी की शुरुआत करने में जुटा हुआ है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA