बेटी बोली- मां के अंतिम संस्कार के पैसे नहीं: पुलिस ने समाजसेवी के सहयोग से करवाई अंत्येष्टि, 5 दिन से बीमार थी महिला

PALI SIROHI ONLINE

सिरोही।सिरोही जिला अस्पताल में पिछले 5 दिनों से बीमार चल रही एक महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतका की बेटी ने बताया कि वह इकलौती बेटी है और उसके पास अंतिम संस्कार के लिए पैसे नहीं हैं। इस पर पुलिस ने समाजसेवी के सहयोग से बेटी का कंधा दिलवाकर उसकी मां का अंतिम संस्कार करवाया।

अस्पताल पुलिस चौकी के कॉन्स्टेबल श्रवण सिंह ने बताया कि वराड़ा निवासी केली देवी पत्नी ओबाराम वागरी की तबीयत खराब होने पर उसे कुछ लोगों ने अस्पताल में भर्ती करवाया था। 5 दिन इलाज के बाद मंगलवार दोपहर को उसकी मौत हो गई। मृतका की बेटी पूजा ने बताया कि बचपन में ही उसके पिता की मौत हो चुकी थी। जिसके बाद मां-बेटी किसी तरह से मांग कर गुजारा करते थे। उसकी शादी के बाद उसकी मां अकेली रह गई थी। कुछ दिन पहले जब वो गांव लौटकर आई तो उसकी मां गांव में नहीं मिली। जब उसने आसपास के लोगों से पूछताछ कि तो उसे पता कि उसकी मां अस्पताल में भर्ती है। मंगलवार को उसकी मां की मौत हो गई, लेकिन उसके पास अंतिम संस्कार के लिए भी पैसे नहीं थे।

श्रवण सिंह ने बताया कि इस पर उन्होंने अंतिम संस्कार के लिए समाजसेवी प्रकाश प्रजापति को सूचना देकर बुलवाया। प्रकाश प्रजापति के सहयोग से केली देवी के अंतिम संस्कार के पहले बहन और बेटी का कंधा दिलवाते हुए शव वाहिनी तक पहुंचे और वहां से श्मशान घाट पहुंचकर अंतिम संस्कार करवाया।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA