शिक्षक काउंसलिंग: ऑटो वाले की बेटी बनी शिक्षक, दो बहनों को एक साथ एक ही स्कूल

PALI SIROHI ONLINE

सिरोही।जिला परिषद कार्यालय के सभागार में शनिवार से तीन दिवसीय राजस्थान तृतीय श्रेणी शिक्षक प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्कूल विद्यालय अध्यापक सीधी भर्ती 2021 के माध्यम से शिक्षक लेवल प्रथम के नवचयनित अभ्यर्थियों के रिक्त पदों पर नियुक्ति करने के लिए काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू हुई।काउंसलिंग प्रक्रिया सुबह शुरू हुई जो शाम तक चलती रही।

जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारंभिक) भंवरसिंह ने बताया कि पहले दिन काउंसलिंग के लिए नॉन टीएसपी के कुल 147 अभ्यर्थियों को बुलाया गया था, जिसमें से 145 अभ्यर्थियों ने काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लिया। इसमें एक ऑटो चालक की बेटी शिक्षक बनी, तो दो बहनों को एक ही स्कूल मिली। इतना ही नहीं एक परिवार में पहली बार कोई बेटी शिक्षक बनी।

जिला परिषद छुट्टी के दिन भी अभ्यर्थियों की चहल कदमी होती रही। शिक्षा विभाग ने भी मुस्तैदी से कार्य कर प्रक्रिया को पूर्ण किया। अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी व प्रभारी विपिन डाबी ने बताया कि प्रथम लेवल के शिक्षक वे होते हैं, जो पहली से पांचवीं कक्षा तक के बच्चों को पढ़ाते हैं।

संजय नगर स्कूल में पिछले 8 महीने से बच्चों को निशुल्क पढ़ाने जाती थी यास्मीन बानू काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लेने के लिए सुमेरपुर निवासी अक्षर खान अपनी बेटी यास्मीन बानू को ऑटो रिक्शा में लेकर आया। पिता अक्षर खान ने बताया कि उसके परिवार की सात पीढ़ियों में कोई शिक्षक नहीं था। पहली बार बेटी शिक्षक बनी है। वह पिछले 32 साल से ऑटो चलाकर बेटी को पढ़ा रहे हैं। बेटी भी शिक्षक बनने से पूर्व संजय नगर स्कूल में पिछले 8 महीने से बच्चों को निशुल्क पढ़ाने जाती थी। स्कूल की शिक्षिका कृष्णा वैष्णव ने यास्मीन का मार्गदर्शन समय-समय पर करती रही।

दो बहनें: पढ़ाई परीक्षा-नौकरी सब साथ-साथ बचपन में साथ-साथ रहने के साथ ही दोनों बहनें सोनम शर्मा व पूनम शर्मा ने रीट की तैयारी एक साथ की। इसी के साथ दोनों का संयोग देखिए, सिरोही में काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लेने आई दोनों बहनों को स्कूल भी एक साथ मिली। दोनों बहनों को शिवगंज ब्लॉक के सरदारपुरा राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय मिला। दोनों ने बताया कि उनके परिवार में कई शिक्षक हैं। साथ ही दोनों पहले प्रयास में ही शिक्षक में चयन हुआ है।

सरकारी स्कूल में पढ़ी माया, परिवार से पहली शिक्षक भरतपुर की माया कुमारी सिरोही में हुई काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लेने के लिए पहुंची। माया ने बताया कि वह परिवार की पहली शिक्षक बनी है। उसने बताया कि वह अपने भाई के साथ काउंसलिंग प्रक्रिया में भाग लेने के लिए आई। वह सरकारी स्कूल में पढ़ाई की है। वह प्रथम प्रयास में ही शिक्षक बनी है। उसने कोचिंग भी नहीं की। केवल घर पर बैठकर सुबह-शाम पढाई की है।

इस बार हाइवे की स्कूल दूर, ग्रामीण अंचल ही चुने विकल्प अधिकारी बताते हैं कि काउंसलिंग प्रक्रिया के दौरान शाला दर्पण पोर्टल पर अभ्यर्थियों को स्कूलों में रिक्त पदों की सूचना दर्शाई गई शिक्षा विभाग की ओर से जिले के स्कूलों में जहां रिक्त पद हैं उनकी सूची दी गई। साथ ही इस बार हाईवे की मिडिल स्कूलों को शाला दर्पण पोर्टल पर नहीं दर्शाया गया। जिसका फायदा यह हुआ कि ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित सरकारी स्कूलों में अभ्यर्थियों ने अपनी पसंद के स्कूलों को चुना। ऐसे में काफी हद तक सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी दूर हो जाएगी।

दूसरे जिलों से आए अभ्यर्थियों ने गूगल मैप से देखी स्कूल

लोकेशन काउंसलिंग प्रक्रिया में अधिकतर युवक-युवतियां बाहरी जिलों के थे। ऐसे में वे परिजनों संग पूरी तैयारी के साथ आए थे। अभ्यर्थी को जब रिक्त पदों की सूचना मिली तो कागज, पैन लेकर गूगल मैपिंग पर स्थान ढूंढने लगे। साथ ही स्थानीय लोगों को पूछने लगे कि फलां-फलां स्कूल कौनसी जगह है। सिरोही से जाने का कौनसा साधन है।

सीईओ ने देखी व्यवस्था, आज होगी टीएसपी क्षेत्र के 231

अभ्यर्थी की काउंसलिंग जिला परिषद सभागार में काउंसलिंग प्रक्रिया का सुबह शुरू हुई थी। इसमें जिला परिषद सीईओ नारायणसिंह चारण ने व्यवस्था को लेकर निरीक्षण किया। शिक्षा विभाग की ओर से काउंसलिंग के लिए अभ्यर्थियों का पंजीयन व टोकन कार्य, कम्प्यूटर, कार्यालय कार्य, पोर्टल कार्य, व्यवस्था संबंधी कार्य, अभ्यर्थियों को मोबाइल पर काउंसलिंग में उपस्थित होने के लिए सूचित करना, विद्यालय विकल्प पत्र भरवाना, अभिमत पंजिका में काउंसलिंग से संबंधित राय दर्ज करवाना समेत 6 टीमों का गठन किया गया था।

शिक्षा विभाग की ओर से जिला परिषद में काउंसलिंग प्रक्रिया दूसरे दिन रविवार को टीएसपी क्षेत्र के 231 अभ्यर्थी की होगी। इसके बाद सोमवार को विशेष शिक्षक नॉन टीएसपी की काउंसलिंग की जाएगी। इसके लिए अधिकारियों ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA