ड्राइवर को झपकी आने पर बस ट्रेलर में घुसी:बाराती खिड़की दरवाजा तोड़कर बाहर निकले,17 घायलों में से चार गंभीर

PALI SIROHI ONLINE

चित्तौड़गढ़।बारातियों से भरी एक ट्रेवल बस अजमेर से दाहोद जाते समय दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में 17 लोग घायल हो गए। घायलों में चार जनों की हालत गंभीर होने पर उदयपुर रैफर किया गया। बताया जा रहा है कि बस चालक को झपकी लगने से आगे खड़ी ट्रेलर में बस जा घुसी। एक्सीडेंट की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। घायलों को जिला हॉस्पिटल पहुंचाया।

चित्तौड़गढ़ के सदर थाना क्षेत्र के रिठौला चौराहे पर बारातियों से भरी एक ट्रेवल बस खड़े ट्रेलर में जा घुसे इसका कारण बस चालक को झपकी लगना बताया जा रहा है। एक्सीडेंट होते ही बस चालक नीचे उतर गया। सवारियां खिड़की-दरवाजा तोड़कर बाहर निकले। मौके से गुजर रही गाड़ियों के लोगों ने घायलों को बाहर निकाला। मौके पर सदर थाना पुलिस भी पहुंची और घायलों को 108 एंबुलेंस की मदद से हॉस्पिटल पहुंचाया। इस दौरान 17 जने घायल हो गए। चार घायलों को उदयपुर रैफर किया गया।

रात को 11 बजे निकले थे बाराती बारातियों से भरी बस दाहोद टॉकीज, मारवाड़ी रोड के पास निवासी बॉबी मंगल सासी की शादी के लिए अजमेर गया था। शादी के बाद बाराती बस में सवार गुरुवार रात 11 बजे निकल गए। दुर्घटना करीब सुबह 4:40 पर हुआ। इस बस में सभी दूल्हे के रिश्तेदार थे। दूल्हा दुल्हन अपने माता पिता के साथ शुक्रवार सुबह अजमेर से निकलने वाले थे। एक्सीडेंट की खबर सुनते ही वे लोग भी अजमेर से निकल चुके हैं। यह बस दाहोद जाने वाली थी।

यह हुए घायल घायलों में अहमदाबाद निवासी मयंक (25) पुत्र प्रकाश

कुमार, रितेश (25) पुत्र बाबू भाई, दाहोद निवासी पिंटू (40) पुत्र सुरेश भाई, अहमदाबाद निवासी मनीषा (32) पत्नी कमलेश, पुष्पा (20) पत्नी रितेश गुमानी, दाहोद निवासी सोमाभाई (45) पुत्र ओम प्रकाश भूरिया, सुरेश (50) पुत्र सूरज, अहमदाबाद निवासी करुण (25) पुत्र तेज, अहमदाबाद निवासी समशा (40) पत्नी सुरेश गुमाना, कुबेर नगर निवासी राजवीर (14) पुत्र मनोज, अहमदाबाद निवासी योगेश (45) पुत्र महेश कुमार गुमाना, अहमदाबाद निवासी मनोज (25) पुत्र रतन भाई, अहमदाबाद निवासी गिरीश (25) पुत्र मनोज, मनीषा (14) पुत्री मनोज, बांसवाड़ा निवासी अरुण (20) पुत्र अमरीश भाई, बांसवाड़ा निवासी नरेश (20) पुत्र तोला चंद, दाहोद निवासी श्रद्धा (35) पत्नी संतोष है। इनमें से सोमाभाई, पुष्पा, सुरेश और पिंटू को रेफर कर दिया गया।