मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा: भीनमाल में रतनारामजी महाराज मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा संपन्न, महाप्रसादी का हुआ आयोजन

PALI SIROHI ONLINE

भीनमाल।भीनमाल के रेबारियों की ढाणी स्थित रणछोड़ जी महाराज मंदिर में नवनिर्मित रतनाराम जी महाराज की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा शुक्रवार को वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ धूमधाम से संपन्न हुई। इस दौरान लाभार्थी परिवारों का बहुमान किया गया और महाप्रसादी का आयोजन हुआ।

संदीप देसाई ने बताया कि रतनारामजी महाराज मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर लोगों में उत्साह का माहौल देखा गया। जिसके तहत सवेरे से ही मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ एकत्रित होनी शुरू हुई। इस दौरान मुख्य कलश की स्थापना लाभार्थी वचनाराम देवासी परिवार द्वारा की गई। मंदिर शिखर पर अमर ध्वजा रणछोड़ जी महाराज के पुत्र जवानाराम देवासी परिवार द्वारा चढ़ाई गई।

मंदिर परिसर में हवन यज्ञ का आयोजन हुआ। जिसमें मुख्य यजमान के रूप में नवाराम हुआ। देवी देवासी ने लाभ लिया। इस दौरान विभिन्न चढ़ावा के लाभार्थी परिवारों व साधु संतों का बहुमान किया गया। बीके गीता बहन ने कहा कि मनुष्य जीवन हमें एक बार मिलता है। ऐसे में हमें इस शरीर का नाश नहीं करना है, उन्होंने नशे से दूर रहकर इस शरीर को स्वच्छ व सुंदर रखते हुए सकारात्मक सोच के साथ जीने के बारे में प्रवचन दिया। संचालन मिठालाल जांगिड़ ने किया।

महाप्रसादी का आयोजन

रतनारामजी महाराज की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के दूसरे दिन मंदिर परिसर में महाप्रसादी का आयोजन हुआ। महाप्रसादी के लाभार्थी मांगीलाल सोलंकी, भंवरलाल सोलंकी, पुखराज सोलंकी, मोहनलाल रूपाजी, सुंदेशा परिवार द्वारा फले चुंदड़ी का आयोजन किया गया।

हेलीकॉप्टर से हुई पुष्प वर्षा

प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के पश्चात दोपहर में मंदिर शिखर पर हेलीकॉप्टर से लाभार्थी परिवारों द्वारा पुष्प वर्षा की गई। इससे पूर्व मंदिर पर ड्रोन से भी लाभार्थी परिवार संदीप भाई करनाजी नोगु परिवार द्वारा पुष्प वर्षा की गई।