भीलवाड़ा में 5 दिन बाद फिर तनाव LIVE: लड़के की हत्या के बाद हिंदू संगठनों ने बंद बुलाया, शहर छावनी में तब्दील; इंटरनेट बंद

PALI SIROHI ONLINE

भीलवाड़ा।राजस्थान के भीलवाड़ा शहर में मंगलवार देर रात हुई एक युवक की हत्या के बाद एक बार फिर से तनाव बढ़ गया है। हिंदू संगठनों की ओर से आज, यानी बुधवार को भीलवाड़ा शहर बंद रखा जाएगा। इधर, प्रशासन ने शहर में एक बार फिर इंटरनेट बंद कर दिया है। वहीं, हालात को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है। बंद के दौरान हिंदू संगठन एक चौराहे पर एकत्रित हो गए हैं, हर जगह पुलिस बल तैनात है।

तनाव की शुरुआत मंगलवार रात को हुई, जब शास्त्री नगर में 20 साल का आदर्श तापड़िया स्कूटी पर जा रहा था। इस दौरान बाइक पर सवार दो युवकों ने उसे रोका और उसके सीने में चाकू मार दिया। इससे उसकी मौत हो गई। सूचना मिलने के बाद शहर के महात्मा गांधी अस्पताल में भीड़ जमा हो गई। परिवार ने शव लेने से मना कर दिया और माहौल गरमा गया। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है, इसमें से एक नाबालिग है।

राजस्थान के भीलवाड़ा शहर में मंगलवार देर रात हुई एक युवक की हत्या के बाद एक बार फिर से तनाव बढ़ गया है। हिंदू संगठनों की ओर से आज, यानी बुधवार को भीलवाड़ा शहर बंद रखा जाएगा। इधर, प्रशासन ने शहर में एक बार फिर इंटरनेट बंद कर दिया है। वहीं, हालात को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है। बंद के दौरान हिंदू संगठन एक चौराहे पर एकत्रित हो गए हैं, हर जगह पुलिस बल तैनात है।

तनाव की शुरुआत मंगलवार रात को हुई, जब शास्त्री नगर में 20 साल का आदर्श तापड़िया स्कूटी पर जा रहा था। इस दौरान बाइक पर सवार दो युवकों ने उसे रोका और उसके सीने में चाकू मार दिया। इससे उसकी मौत हो गई। सूचना मिलने के बाद शहर के महात्मा गांधी अस्पताल में भीड़ जमा हो गई। परिवार ने शव लेने से मना कर दिया और माहौल गरमा गया। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है, इसमें से एक नाबालिग है।

दिन में छोटे भाई से हुआ था झगड़ा बताया जा रहा है कि मंगलवार के दिन में मृतक आदर्श के छोटे भाई हनी का कुछ नाबालिग लड़कों से विवाद हुआ था। इसके बाद बड़े भाई आदर्श ने उन्हें टोका भी था। पुलिस ने एक नाबालिग को भी पूछताछ के लिए बुलाया है। रात को हुई इस घटना के बाद इलाके में जाप्ता तैनात कर दिया गया है। वहीं शव को मॉर्चुरी में रखवाया गया है। परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही शव उठाने की मांग रखी है।