राजस्थान के 15 जिलों में बढ़ेगा गर्मी का प्रकोप, 11 को सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ

PALI SIROHI ONLINE

राजस्थान में अब गर्मी का कहर फिर बरपेगा। आगामी दिनों में लगभग आधा राजस्थान लू की चपेट में होगा। धूप के साथ तापमान में भी तेजी दर्ज होगी। मौसम विभाग ने इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया है

सीकर. राजस्थान में अब गर्मी का कहर फिर बरपेगा। आगामी दिनों में लगभग आधा राजस्थान लू की चपेट में होगा। धूप के साथ तापमान में भी तेजी दर्ज होगी। मौसम विभाग ने इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार प्रदेश में कम से कम 15 मई तक मौसम बिल्कुल शुष्क रहेगा। जिसमें दिन में तापमान में बढ़ोत्तरी दर्ज होने के साथ कई जिले उष्ण लहर की जद में आएंगे। लू का प्रकोप शुरू के दो दिन दस जिलों में रहेगा। जो धीरे धीरे बढ़ता हुआ 15 जिलों तक पहुंचेगा। हालांकि इस बीच 11 मई को पश्चिमी हिमालय में एक नया पश्चिमी विक्षोभ भी सक्रिय होगा। लेकिन, उसका असर प्रदेश में नहीं पडऩे से बरसात की संभावना नहीं के बराबर ही रहेगी।

इन जिलों में पड़ेगी भीषण गर्मी
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार सोमवार को पूर्वी राजस्थान के बांसवाड़ा, डूंगरपुर, धौलपुर व करौली तथा पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर, गंगानगर व चूरू जिले में लू चलने की संभावना है। मंगलवार को पूर्वी राजस्थान के बांसवाड़ा, डूंगरपुर, धौलपुर, झुंझुनूं, टोंक, करौली व सवाई माधोपुर तथा पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, जोधपुर, नागौर और चूरु जिले में लू चलेगी। इसी तरह 11 मई को पूर्वी राजस्थान के बांसवाड़ा, डूंगरपुर, धौलपुर, झुंझुनंू, टोंक, करौली व सवाई माधोपुर जिले व पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, जोधपुर, नागौर और बारां जिलों व 12 मई को प्रदेश के बांसवाड़ा, डूंगरपुर, धौलपुर, झुंझुनंू, टोंक, करौली व सवाई माधोपुर, बाड़मेर , जैसलमेर, बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, जोधपुर, नागौर व चूरु जिले में लू चलेगी।
स्काई मेट ने भी जारी किया अलर्ट
इधर, स्काईमेट वेदर रिपोर्ट ने भी सोमवार को पश्चिमी राजस्थान में लू का अलर्ट जारी किया है। रिपोर्ट के अनुसार पश्चिमी राजस्थान के अलावा सोमवार को विदर्भ, पश्चिम मध्य प्रदेश और सौराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों में लू की संभावना है। रिपोर्ट के अनुसार 24 घंटों के दौरान, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, गंगीय पश्चिम बंगाल, तटीय ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा और मेघालय और नागालैंड के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। असम, अरुणाचल प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, आंतरिक ओडिशा, केरल, दक्षिण कर्नाटक, रायलसीमा और तमिलनाडु के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। इसी तरह दक्षिण पूर्व और इससे सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी में समुद्र की स्थिति बहुत खराब से बहुत खराब रहेगी। हवा की गति 90-100 किमी प्रति घंटे से 110 किमी प्रति घंटे तक पहुंच सकती है। बंगाल के मध्य भागों और तटीय आंध्र प्रदेश के आसपास के हिस्सों और तटीय ओडिशा की समुद्री स्थिति भी 9 और 10 मई को खराब से बहुत खराब हो सकती है।