यहां होते हैं बाल विवाह, आठ साल के बेटे के फेरे की थी तैयारी

PALI SIROHI ONLINE

झालावाड़. मनोहरथाना. तहसील में प्रशासन ने 6 बाल विवाह रूकवाकर माता पिता को पाबंद कराया। क्षेत्र के गांव में सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से बाल विवाह की प्रशासन को मिली जानकारी के बाद मौका रिपोर्ट के लिए टीम को भेजा।

इसमें 6 नाबालिग के बाल विवाह को रुकवाया एवं माता पिता को पाबंद किया। तहसीलदार धनराज मीणा ने बताया कि क्षेत्र के जालमपुरा गांव में रामकिशन लोधा पुत्र भंवरलाल द्वारा उसके 15 वर्षीय लड़की का विवाह किया जा रहा था। जालमपुरा में प्रभु लाल पुत्र मांगीलाल द्वारा उसके 8 वर्षीय पुत्र का विवाह किया जा रहा था।

कांवरियाखेड़ी गांव में छीतरलाल पुत्र प्रभु लाल तंवर द्वारा उसके 20 वर्ष 9 माह के पुत्र का विवाह किया जा रहा था। कंवरियाखेड़ी में ही देवकरण पुत्र बने ङ्क्षसह तंवर अपने 17 वर्षीय 11 माह के पुत्र का विवाह कर रहा था व कंवरियाखेड़ी में जय ङ्क्षसह पुत्र मदनलाल तंवर अपने 20 वर्षीय 7 माह के पुत्र का विवाह कर रहा था। मोहनपुरा में पुरीलाल अपनी 15 वर्षीय पुत्री के विवाह की तैयारी कर रहा था। मौके पर एलआईआर, पटवारी राधेश्याम व बनवारी द्वारा मौके पर जाकर समझाइश कर विवाह को रुकवाया और माता पिता को पाबंद किया।