ACB को देख रिश्वत के रुपयों के साथ भागा कांस्टेबल,शराब तस्कर ने 140 की स्पीड में दौडाई गाड़ी, ACB के अधिकारी पर भी कार चढ़ाने का प्रयास

PALI SIROHI ONLINE

पाली। ACB टीम कॉन्स्टेबल को 15 हजार रुपए की रिश्वत के साथ पकड़ने पहुंची। मगर कॉन्स्टेबल अपने दोस्त और शराब ठेकेदार के साथ जीप में भाग गया। एसीबी अधिकारियों ने पीछा किया तो उप पर जीप चढ़ाने की कोशिश की। टीम ने आरोपी का करीब दस किलोमीटर तक पीछा किया। मगर वह भागने में कामयाब हो गया।

मामले की सूचना पर पाली जिले के जैतारण डीएसपी सुखराम विश्नोई और आनंदपुर कालू थाना प्रभारी शारदा विश्नोई पहुंचे। आरोपियों को पकड़ने के लिए अजमेर, जोधपुर, नागौर समेत पूरे जिले में नाकाबंदी कराई गई। बुधवार देर रात तक उनके बारे में सुराग नहीं मिल पाया है। एसीबी अधिकारियों ने कॉन्स्टेबल समेत शराब ठेकेदार के खिलाफ राजकार्य में बाधा पहुंचाने और जान से मारने का प्रयास करने का मुकदमा दर्ज कराया है।

ACB पाली के एएसपी नरपतचंद ने बताया कि करीब दो महीने पहले दो बाइकों में टक्कर हो गई। मामले में कॉन्स्टेबल आशाराम जाट ने किसी तरह की कागजी कार्रवाई नहीं की और परिवादी से 30 हजार रुपए की रिश्वत की डिमांड करने लगा। ऐसा नहीं करने पर चोरी के मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहा था। दोनों के बीच 20 हजार रुपए देने का सौदा तय हुआ। एसीबी ने शिकायत का सत्यापन किया।

परिवादी मंगलवार को कॉन्स्टेबल आशाराम को 5 हजार रुपए देकर आया। शेष 15 हजार रुपए बुधवार को देना तय हुआ था। जिसे रंगे हाथों पकड़ने के लिए एसीबी टीम पहले से तैयार थी। कॉन्स्टेबल आशाराम के इशारा करने पर एसीबी कार्रवाई की भनक लग गई। वह तुरंत ही रिश्वत की राशि के साथ शराब ठेकेदार बंटी की जीप में बैठ गया और तेजी से जीप भगा ले गया। एसीबी के अधिकारियों ने चलती जीप से उसे पकड़ने का प्रयास किया लेकिन वे भागने में कामयाब हो गए।

पहले भी लग चुके हैं आरोप

कॉन्स्टेबल आशाराम जाट के खिलाफ पहले भी सीमेंट प्रबंधन के इशारे पर ग्रामीणों के साथ दुर्वयहार करने और झूठे मामलों में फंसाने के आरोप लग चुके हैं। कई बार थाने में शिकायत करने के बाद भी उसे सरंक्षण देते हुए नहीं हटाया जा रहा था।

एसीबी अधिकारियों पर जीप चढ़ाने का प्रयास आरोपी शराब ठेकेदार ने कॉन्स्टेबल को एसीबी के चंगुल से बचाने के लिए जीप करीब 140 की स्पीड से भगाई। इस दौरान वहां मौजूद एसीबी अधिकारियों पर भी आरोपी ने जीप चढ़ाने का प्रयास किया लेकिन वे बच गए। एसीबी ने जान से मारने का प्रयास करने और राजकार्य में बाधा पहुंचाने का मामला आंनदपुर कालू में दर्ज कराया। एएसपी नरपतचंद ने बताया कि आरोपी को पकड़ने से पहले ही रिश्वत की राशि लेकर भाग गया।