सल्यूट-महिला पुलिस कास्टेबल ने बेहोश ढाई माह की बच्ची को अपना दूध पिलाकर बचाई जान,शराबी पिता से बेहोशी की हालत में मिली थी बच्ची

PALI SIROHI ONLINE

बारां।जिले की सारथल पुलिस ने बुधवार को एक शराबी पिता से ढाई माह की मासूम को बेहोशी की हालत में मुक्त कराया। मासूम की चिंताजनक हालत देखकर थाने की दो महिला कॉन्स्टेबल ने अपना दूध पिलाकर बच्ची की जान बचाई।

थानाधिकारी महावीर किराड़ और एएसआई हरिशंकर नागर ने बताया कि दोपहर को सूचना मिली कि एक 30 वर्षीय युवक नशे की हालत में थाना इलाके के बाबड़ के पहाड़ी जंगली क्षेत्र से पैदल गुजर रहा है, जिसके पास एक बच्ची है। इस पर एएसआई हरिशंकर नागर मय जाप्ते के कॉन्स्टेबल सुजान सिंह, अरविंद, रामनिवास, महिला कॉन्स्टेबल मुकलेश के बाबड़ के जंगल में तलाश के लिए रवाना हुए।

जंगल में झाड़ियों में घुसा व्यक्ति मिला, जिसके पास गर्मी से बेहाल अचेत अवस्था में ढाई माह की मासूम मिली। नशे में धुत्त व्यक्ति को बच्ची समेत थाना लेकर आए। जहां बच्ची की नाजुक हालत देखते हुऐ महिला कॉन्स्टेबल मुकलेश व पूजा ने अपने आंचल का दूध पिलाकर मासूम बच्ची की भूख मिटाई।

वीडियो देखे

आरोपी युवक से पूछताछ में पता लगा कि वह ढाई माह की बच्ची का पिता है। जिसका नाम राधेश्याम काथोड़ी निवासी छीपाबडौद है। जो सुसराल गांव बंधा थाना कामखेड़ा से अलसुबह 4 से 5 बजे के लगभग बच्ची को लेकर चुपचाप पैदल रवाना हो गया। उसने पैदल भूखी प्यासी बच्ची के साथ नशे की हालत में पैदल सालापुरा जा रहा था। पुलिस ने बच्ची की मां को सूचना दी। जब तक बच्ची की देखरेख महिला कॉन्स्टेबल मुकलेश और पूजा ने की।

उन्होंने बच्ची को स्तनपान करवाया। महिला कांस्टेबल मुकलेश व पूजा ने बताया कि हालत देखकर लगा कि काफी घंटो से भूखी है। होठ सूखे हुऐ थे इतनी छोटी बच्ची को कुछ नहीं दे सकते। हम दोनों के एक साल के बच्चे हैं। इसलिये बिना देर किए हुए पहले पूजा ने फिर मुकलेश ने बच्ची को स्तनपान करवाया।