अखबार बांटे, दूध बेचा, सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी की, रुपए नहीं थे तो गुरुद्वारे में लंगर खाया, चार साल बाद बना हुनरबाज

PALI SIROHI ONLINE

सिरोही।• सिरोही स्थापना दिवस समारोह में भाग लेने आए रियलिटी शो के विनर आकाश सिंह का संघर्ष बिहार भागलपुर के रहने वाले एरियल डांसर आकाश सिंह । आर्थिक तंगी के दौर को देख चुके आकाश ने मुंबई में चार •साल स्ट्रगल किया। खाने तक के रुपए नहीं थे, तो गुरुद्वारे के लंगर में खाना खाया, सवेरे अखबार बांटे और रात में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी की। समय मिलता तो पेड़ों पर डांस की प्रेक्टिस की।

रियलिटी शो हुनरबाज देश की शान में ऑडिशन दिया और जजों का दिल जीत सलेक्ट हुआ और शो के विनर बने। सिरोही स्थापना दिवस समारोह में भाग लेने पहुंचे आकाश ने खास बातचीत कर जीवन से जुड़ी घटनाएं और गांव से निकलकर मुंबई में रियलिटी शो के विनर बनने की कहानी साझा की।

विदेशी रियलिटी शो देख आया था एक्ट का आइडिया, गांव में प्रैक्टिस कर सीखा डांस आकाश सिंह ने बताया कि शुरु से ही उन्हें कुछ अलग करने का सोचा था। डांस तो कई लोग करते हैं, लेकिन मुझे कुछ अलग करना था, जो सबसे हटकर हो। इसलिए अरियल एक्ट करने का ठान लिया। अरियल एक्ट का आइडिया उन्हें विदेशी रियलिटी शो देख कर आया। इसकी शुरुआत गांव में ही पेड़ पर प्रैक्टिस कर की।

लौटने के पैसे नहीं थे तो संघर्ष शुरू किया आकाश सिंह गांव वर्ष 2018 में कुछ रुपए लेकर मुंबई रियलिटी शो में ऑडिशन देने पहुंचे। उन्होंने बताया कि ऑडिशन अच्छा नहीं हुआ था तो मुझे सिलेक्ट भी नहीं किया गया। वापस जाने के रुपए नहीं थे, तो यहीं रहने लगा और कड़ी मेहनत करता रहा। मैने दादर के शिवाजी पार्क में प्रैक्टिस करता था। बगैर परमिशन वहां प्रैक्टिस नहीं करने दी। इसके बाद एक व्यक्ति ने पास के एक मंदिर में रहने की परमिशन दी।

पिता बिहार में ड्राइवर : आकाश सिंह ने बताया कि मैंने अखबार बांटने का काम किया, बाद में दूध बेचने लगा। सिक्योरिटी गार्ड का भी काम किया। हालांकि उस दौरान भी मैं अपने डांस पर काम करता रहा और रोजाना प्रैक्टिस करता। खाने के रुपए नहीं होते थे, तो किसी से गुरुद्वारे का पता पूछ वहां लंगर में खाना खाता और मंदिर में ही सोता। पापा ड्राइवर का काम करते हैं, उनके पास भी इतने रुपए नहीं थे कि वे मुझे भेजते। मैं मेहनत करता गया और कुछ नया करता गया।

परिणिती चौपड़ा ने कहा तू मेरा छोटा भाई है, अब पीछे मुड़कर नहीं देखना हुनरबाज के रियलिटी शो के ऑडिशन : के दौरान जब मैं नर्वस हो गया तो वहां जज बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणिती चौपड़ा ने हौसला बढ़ाते हुए मुझे छोटा भाई कहा और बोली थीं कि आकाश घबराओ मत, डरने की जरुरत नहीं है, तुम बहुत अच्छा करोगे। बस तुम करो, आगे जो होगा देखेंगे। उनके हौसले से मैने एक्ट किया और बहुत अच्छा किया।